बिहार में बड़े स्तर पर ट्रांसफर पोस्टिंग.. 26 IAS अफसरों का तबादला.. जानिए किसकी कहां हुई पोस्टिंग

0

बिहार सरकार ने बड़े स्तर पर प्रशासनिक फेरबदल की है। नीतीश सरकार ने 26 IAS अधिकारियों का तबादला किया है। जिसमें बिहारशरीफ,बेगूसराय और भागलपुर के नगर आयुक्त भी शामिल हैं । साथ ही 10 जिलों में नए बंदोबस्त पदाधिकारी की भी नियुक्ति की गई है ।

शेखर आनंद को बिहारशरीफ का नया नगर आयुक्त बनाया गया है । शेखर आनंद इससे पहले रोहतास जिले के उप विकास आयुक्त यानि DDC थे । शेखर आनंद 2018 बैच के IAS अफसर हैं

उदिता सिंह को नालंदा का नया बंदोबस्त पदाधिकारी बनाया गया है । उदिता सिंह 2014 बैच की IAS ऑफिसर हैं। वे इस समय मातृत्व छुट्टी यानि मैटरनिटी लीव पर थीं. वे इसी साल 16 जनवरी को दोबारा काम पर लौटी हैं जिसके बाद उन्हें पोस्टिंग का इंतजार था ।

बिहारशरीफ नगर निगम के नगर आयुक्त तरनजोत सिंह का तबादला कर दिया गया है । तरनजोत सिंह को बिहारशरीफ के नगर आयुक्त से हटाकर उन्हें पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग का निदेशक बना दिया गया है । तरनजोत सिंह 2017 बैच के आईएएस अफसर हैं

नितिन कुमार सिंह को भागलपुर का नया नगर आयुक्त बनाया गया है । वे इससे पहले मधेपुरा के उपविकास आयुक्त थे। नितिन कुमार सिंह को योगेश कुमार सागर की जगह भेजा गया है।

योगेश कुमार सागर को उद्योग विभाग का संयुक्त सचिव बनाया गया है। वे इससे पहले भागलपुर के नगर आयुक्त थे और 2017 बैच के IAS अफसर हैं

सत्येंद्र कुमार सिंह को बेगुसराय का नया नगर आयुक्त बनाया गया है । वे इससे पहले सूचना एवं जनसंपर्क विभाग में संयुक्त सचिव के पोस्ट पर तैनात थे । सत्येंद्र कुमार सिंह 2013 बैच के आईएएस अधिकारी हैं।

सुरेश चौधरी को पंचायती राज विभाग का सचिव बनाया गया है। वे इससे पहले पश्चिम चंपारण यानि बेतिया में बंदोबस्त पदाधिकारी के पद पर तैनात थे। सुरेश चौधरी 2008 बैच के आईएएस अफसर हैं।

किशोरी चौधरी को राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में संयुक्त सचिव बनाया गया है। वे 2011 बैच के आईएएस अफसर हैं और इससे पहले वे बक्सर में अपर समाहर्ता ( लोक शिकायत निवारण ) सह जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी के पद पर तैनात थे ।

विशाल राज सिंह को तकनीकी विकास,उद्योग विभाग का निदेशक बनाया गया है । वे 2017 बैच के IAS हैं और इससे पहले मधुबनी के उप विकास आयुक्त यानि डीडीसी के पद पर तैनात थे ।

आरिफ अहसन को नगर विकास एवं आवास विभाग का संयुक्त सचिव बनाया गया है । वे 2017 बैच के आईएस हैं औऱ इससे पहले पूर्णिया के नगर आयुक्त पद तैनात थे

अनिल कुमार सिंह को बिहार एड्स नियंत्रण सोसाइटी का परियोजना निदेशक बनाया गया है । इससे पहले वे पश्चिम चंपारण बेतिया के उप विकास आयुक्त (DDC)थे। अनिल कुमार सिंह 2017 बैच के IAS हैं।

प्रतिभा रानी को पश्चिम चंपारण बेतिया का नया उप विकास आयुक्त आयुक्त (DDC) बनाय गया है । प्रतिभा रानी 2018 बैच की IAS हैं

चंद्रिमा अत्री को वैशाली जिले के महुआ का नया अनुमंडल पदाधिकारी बनाया गया है । वे इससेपहले दरभंगा की अनुमंडल पदाधिकारी थीं। वे 2020 बैच की IAS अफसर हैं

दीपेश कुमार की पहली पोस्टिंग उप विकास आयुक्त मधुबनी के तौर पर हुई है । वे नवनियुक्त हैं और पोस्टिंग के इंतजार में थे।

नवादा के डीडीसी उज्ज्वल कुमार सिंह का तबादला हो गया है । उन्हें ग्रामीण कार्य विभाग में संयुक्त सचिव बनाया गया है । उज्ज्वल कुमार सिंह 2011 बैच के आईएएस हैं

नरेश झा को कटिहार का बंदोबस्त पदाधिकारी बनाया गया है।वे इससे पहले मधुबनी में अपर समाहर्ता सह अपर जिला दंडाधिकारी के पद पर तैनात थे । वे 2011 बैच के आईएएस हैं ।
शशांक शेखर सिंह को जल संसाधन विभाग का नया संयुक्त सचिव बनाया गया है । वे इससे पहले समाज कल्याण मंत्री के आप्त सचिव के पद पर तैनात थे । वे 2011 बैच के आईएएस हैं ।

कुमार शिव कुमार शैव को किशनगंज का बंदोबस्त पदाधिकारी बनाया गया है । वे इससे पहले खान एवं भूतत्व विभाग के मंत्री आप्त सचिव के पद पर तैनात थे। वे 2011 बैच के आईएएस अफसर हैं ।

विश्वनाथ चौधरी जो सारण मंडल के आयुक्त के सचिव थे उनका तबादला सहरसा कर दिया गया है । उन्हें सहरसा का नया बंदोबस्त पदाधिकारी बनाया गया बै । वे 2011 बैच के आईएएस अफसर हैं ।

कौन कहां के बंदोबस्त पदाधिकारी बने
कमलेश कुमार –  बंदोबस्त पदाधिकारी पूर्णिया
सुनील कुमार – बंदोबस्त पदाधिकारी मुंगेर
पवन कुमार सिन्हा – बंदोबस्त पदाधिकारी जमुई
मनोज कुमार–  बंदोबस्त पदाधिकारी नवादा
मुकेश कुमार – बंदोबस्त पदाधिकारी गया
ब्रजेश कुमार – बंदोबस्त पदाधिकारी मधेपुरा

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In पुलिस प्रशासन

Leave a Reply

Check Also

बिहार में महागठबंधन को एक और बड़ा झटका.. एक और विधायक का विकेट गिरा.. जानिए पूरा मामला

बिहार में महागठबंधन को एक और बड़ा झटका लगा है । पहले स्पीकर की कुर्सी गई.. फिर फ्लोर टेस्ट…