Home बढ़ता बिहार बिहार में बन रहा है पहला हाईटेक अंतर्राज्यीय बस अड्डा (ISBT),जानिए खासियत

बिहार में बन रहा है पहला हाईटेक अंतर्राज्यीय बस अड्डा (ISBT),जानिए खासियत

0

दिल्ली, मुंबई और कोलकाता की तरह राजधानी पटना में भी अंतर्राज्यीय बस अड्डा (Inter state bus terminal) के निर्माण का काम तेजी से चल रहा है। माना जा रहा है कि इस महीने के आखिर में ये बन कर तैयार हो जाएगा. .ये बस अड्डा जीरोमाइल से आधा किलोमीटर दूर पटना-गया रोड पर रामाचक बैरिया पर बन रहा है. जो बिहार का पहला और हाईटेक अंतर्राज्यीय बस अड्डा होगा

अगस्त तक का है डेडलाइन
नगर विकास और आवास विभाग ने टर्मिनल के सभी काम को अगस्त के अंत तक पूरा करने के निर्देश दिया है. विभाग की कोशिश है कि सितंबर में टर्मिनल का उद्घाटन कर लोगों को सौंप दिया जाय.

इस भी पढ़िए-पटना मेट्रो :- जंक्शन से बैरिया के बीच कहां-कहां बनेंगे मेट्रो स्टेशन.. जानिए

तीन ब्लॉक का काम पूरा
इस बस स्टैंड में चार अलग-अलग ब्लॉग होंगे. जिसमें ए, बी और सी ब्लॉक का काम लगभग पूरा होने वाला है. इन ब्लॉक को फाइनल टच दिया जा रहा है. वहीं डी ब्लॉक को इस महीने आखिर तक पूरा कर लिया जाएगा. जिसमें ब्लॉक ए में बसों का आगमन (arrival- Block A) होगा, वहीं ब्लॉक बी से बसों का प्रस्थान ( departure-Block B) होगा. जबकि ब्लॉक सी दोनों ए और बी को जोड़ने का काम करेगा ( (Block C is connector between A&B). जबकि ब्लॉक डी में व्यावसायिक गतिविधियां होगी ( Block D is commercial building). खास बात ये है कि चारों ब्लॉक के ऊपर सोलर पैनल होंगे

इसे भी पढ़िए-अच्छी खबर- पटना में बनेगा देश का पहला तीन मंजिला ट्रैफिक सिस्टम, टू लेन,फोर लेन और मेट्रो एक साथ

क्या है खासियत
ये राज्य का पहला और हाईटेक अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल है. यहां से दूसरे राज्यों के लिए बसें चलेगी. ये बस टर्मिनल 25 एकड़ फैला होगा और आठ मंजिला होगा. जिसमें नीचे गाड़ियों और ऊपर कॉमर्शियल कॉम्प्लेक्स, यात्रियों के लिए अत्याधुनिक वेटिंग रूम, रिटायरिंग रूम, बाथरूम, पेयजल, सूचना सेंटर, ड्राईवरों के लिए विश्राम गृह का निर्माण किया जा रहा है. इसके निर्माण पर करीब 332 करोड़ रुपए खर्च होंगे।

कौन सी बिल्डिंग कैसी होगी
आगमन भवन यानि ( Block-A) ग्राउंड प्लस चार फ्लोर का को होगा जो 16167 वर्गमीटर में फैला होगा
प्रस्थान भवन यानि ( Block-B)- ये भी ग्राउंड प्लस चार फ्लोर का होगा जी 17526 वर्गमीटर में फैला होगा
लिंक ब्लॉक यानि ( Block-C)- ये ग्राउंड प्लस सिक्स फ्लोर का होगा जो 3700.50 वर्गमीटर में फैला होगा
व्यावसायिक भवन यानि ( Block-D)- जो ग्राउंड प्लस आठ फ्लोर का होगा और 2335.90 वर्गमीटर फैला होगा

सिनेमाघर से लेकर मॉल तक होगा
खास बात ये है कि इसमें कॉमर्शियल मार्केट, सिनेमा हाल, बाजार, रेलवे स्टेशन की तरह रुकने की व्यवस्था आदि होगी. साथ ही फ्री वाईफाई की सेवा से लैस होगा. आइएसबीटी भविष्य में पटना मेट्रो से भी जुड़ जायेगा ताकि लोगों को आने-जाने की असुविधा न हो

इसे भी पढ़िए-बिहार की चार सड़कें फोरलेन में होगी तब्दील.. जानिए कहां से कहां तक बनेगा फोरलेन

रोजाना दो हजार बसों की क्षमता
यह बिहार का सबसे बड़ा और अत्याधुनिक बस टर्मिनल होगा। यहां से करीब 2 से 3 हजार बसों का परिचालन संभव हो सकेगा। बस टर्मिनल चालू होने के बाद पटना में बसों का प्रवेश बंद हो जाएगा। सभी बसें टर्मिनल से खुलेगी। साथ खराब बसों की मरम्मति के लिए अलग व्यवस्था होगी.

इसे भी पढ़िए-पटना एयरपोर्ट से गया एयरपोर्ट को जोड़ेगी ये सड़क.. 100 मिनट में सफर तय होगा सफर

शहर जाने के लिए सिटी बस होगी
टर्मिनल बनने के बाद शहर में बसों के प्रवेश पर रोक लग जाएगी। शहर के लोग सरकारी सिटी बस से बस टर्मिनल जाएंगे। इसी तरह बस टर्मिनल पर राज्य के विभिन्न जिलों और दूसरे राज्यों से आने वाले यात्री सिटी बस से शहर में आएंगे।

फुलवारी में सरकारी बसें
सुल्तान पैलेस और बांकीपुर बस डिपो की जमीन पर्यटन विभाग को हस्तांतरित की जानी है। इसके लिए फुलवारी स्थित परिवहन निगम के डिपो को विकसित किया जाएगा। सरकारी सिटी बसें फुलवारी डिपो में खड़ी होगी।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In बढ़ता बिहार

Leave a Reply

Check Also

नागिन का बदला पूरा.. नालंदा में सांप डंसने से सपेरे की मौत !

सांप देखना और पकड़ना रोमांचकारी तो होता है. लेकिन ये मौत के साथ खेलने के समान होता है.. कभ…