अपने मोबाइल पर चेक करें मैट्रिक का रिजल्ट.. सबसे तेज और सबसे आसान तरीके से

0

बिहार बोर्ड 10वीं या मैट्रिक का रिजल्ट आज दोपहर 1 बजे जारी करेगा । बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (BSEB)अपने आधिकारिक वेबसाइट्स पर मैट्रिक का रिजल्ट घोषित करेगा । लेकिन हर किसी को अपना रिजल्ट पहले देखना होता है । ऐसे में वेबसाइट हैंग कर जाता है या स्लो जाता है। ऐसे में अगर आपको अपना रिजल्ट देखना है तो आपको कुछ तरीके अपनाने होंगे।

कौन जारी करेंगे रिजल्ट
इस बार भी 10वीं बोर्ड यानि मैट्रिक के परिणाम की घोषणा शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी द्वारा की जाएगी। इस मौके पर बिहार बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर और शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार मौजूद रहेंगे।

BSEB की आधिकारिक वेबसाइट्स
आपको रिजल्ट चेक करने के लिए बिहार बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होना। बिहार बोर्ड की दो आधिकारिक वेबसाइट पर है जिस पर मैट्रिक के रिजल्ट जारी किए जाएंगे। बिहार बोर्ड मैट्रिक रिजल्ट biharboardonline.bihar.gov.in और biharboardonline.com पर जारी किया जाएगा।

कैसे चेक करें तेज रिजल्ट
अब बात आती है कि आपको अपना रिजल्ट सबसे तेज कैसे चेक करना है । इसके लिए आपको क्या करना है ।
– सबसे पहले आप उस जगह पर रहें जहां आपका मोबाइल नेटवर्क अच्छा हो। ताकि आपके मोबाइल में इंटरनेट तेज हो
– रिजल्ट 1 बजे आएगा ऐसे में आप साढ़े 12 बजे तक एक बार मोबाइल को बंद कर दोबारा स्टार्ट कर लें
– इसके बाद biharboardonline.bihar.gov.in या biharboardonline.com को टाइप कर लें। ताकि जब रिजल्ट की घोषणा हो तो आपको पूरा लिंक टाइप ना करना पड़े।

रिजल्ट चेक करने का पहला तरीका
– biharboardonline.bihar.gov.in पर जाएं।
– Annual Secondary Examination Result के लिंक पर क्लिक करें।
– रोल नंबर और रोल कोड डालें। कैप्चा कोड डालकर व्यू के बटन पर क्लिक करें।
– स्क्रीन पर आपका रिजल्ट आ जाएगा। भविष्य के लिए इसका प्रिंट आउट ले लें।

रिजल्ट चेक करने का दूसरा तरीका
– biharboardonline.com पर जाएं।
– Annual Secondary Examination Result के लिंक पर क्लिक करें।
– रोल नंबर और रोल कोड डालें। कैप्चा कोड डालकर व्यू के बटन पर क्लिक करें।
– स्क्रीन पर आपका रिजल्ट आ जाएगा। भविष्य के लिए इसका प्रिंट आउट ले लें।

इस बार रिजल्ट पेंडिंग नहीं
इस बार एक भी छात्र का रिजल्ट पेंडिग या इनकंप्लीट नहीं रहा। इससे किसी भी छात्र को रिजल्ट सही करवाने के लिए स्कूल या बोर्ड का चक्कर नहीं लगाना पड़ रहा है। बिहार बोर्ड के दस साल के रिजल्ट की बात करें तो 2013 में सात हजार से अधिक छात्रों का रिजल्ट पेंडिंग हो गया था। यह स्थिति 2018 तक बनी रहती थी। हर साल पांच से दस हजार छात्रों का रिजल्ट पेंडिंग हो जाता था।

सिमुलतला आवसीय विद्यालय का रह सकता है दबदबा
इस बार भी मैट्रिक के रिजल्ट में जमुई के सिमुलतला आवासीय विद्यालय के स्टूडेंट्स का दबदबा रहने की संभावना है। कई छात्रों को टॉपर वैरिफिकेशन के लिए पटना बोर्ड ऑफिस में बुलाया गया था। इसके अलावा चंपारण की भी एक छात्रा को बुलाया गया है।

टॉप-3 में शामिल स्टूडेंट्स को मिल सकता है इनाम
मैट्रिक के प्रथम स्थान पर आए छात्र को एक-एक लाख रुपए के इनाम की घोषणा हो सकती है। इसके साथ ही एक-एक लैपटॉप, किंडर बुक रीडर, प्रशस्ति पत्र और मेडल भी मिल सकता है। जबकि दूसरे स्थान वाले सभी टॉपर को 75-75 हजार और तृतीय स्थान प्राप्त टॉपर को 50-50 हजार रुपए इनाम के तौर पर दिए जा सकते हैं। ये राशि पिछले दो साल से टॉपर्स को मिल रही है।

पिछले साल मिले थे सबसे अधिक टॉपर मिले थे
कोविड के पीक पर होने के बाद भी पिछले साल 78.17% स्टूडेंट्स पास हुए थे। साथ ही टॉप-10 में सबसे अधिक 101 विद्यार्थी शामिल थे। 2020 में 41 स्टूडेंट्स् टॉप-10 में थे, जबकि 2019 में 18 छात्र-छात्राएं थे।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In जॉब एंड एजुकेशन

Leave a Reply

Check Also

नीतीश कुमार के दुश्मन नंबर वन को अमित शाह ने दिया Z कैटगरी की सुरक्षा.. जानिए पूरा मामला

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दुश्मन नंबर वन को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बड़ा…