बिहारशरीफ सदर अस्पताल के उपाधीक्षक पर गिरी गाज.. जानिए, क्यों सस्पेंड हुए डिप्टी सुपरिटेंडेंट

0

बिहारशरीफ सदर अस्पताल के उपाधीक्षक पर लापरवाही की गाज गिरी है । सदर अस्पताल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट डॉक्टर सुजीत कुमार को सस्पेंड कर दिया गया है । उन्हें काम में लापरवाही के आरोप में सस्पेंड किया गया है ।

क्या है मामला
दरअसल, बिहारशरीफ में बच्चों के वैक्सीनेशन के दौरान लापरवाही की घटना सामने आई थी । जब दो प्रोफेसर कॉलोनी के भाइयों को कोवैक्सीन की जगह कोविशील्ड की वैक्सीन लगा दी गई थी और सर्टिफिकेट कोवैक्सीन की दी गई थी। जब शिकायत की गई थी तो कहा गया था कि ऐसा होता है घबराने की जरूरत नहीं है ।

सीएस ने मांगा था जवाब
इसी मामले में सदर अस्पताल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट से जवाब मांगा था। लेकिन संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर सिविल सर्जन ने उपाधीक्षक सुजीत कुमार अकेला को निलंबित कर दिया है।

डॉ. रामानंद प्रसाद को मिली जिम्मेदारी
डॉक्टर सुजीत कुमार अकेला को सस्पेंड करने के बाद डॉक्टर रामानंद प्रसाद को बिहारशरीफ सदर अस्पताल का नया डिप्टी सुपरिटेंडेंट बनाया गया है ।

ड्यूटी बांटने में भारी लापरवाही
सिविल सर्जन सुनील कुमार के मुताबिक ड्यूटी बांटने में भारी लापरवाही बरती गई है। जो ANM पूर्व से टीका लगा रही थी। वह कोरोना पॉजिटिव हो गई थी। उसी की जगह अनट्रेंड एएनएम को ड्यूटी लगाया गया था। जिससे यह बड़ी लापरवाही हुई है। उनसे 48 घंटे के भीतर टीका देने वाले एएनएम से भी स्पष्टीकरण की मांग की गई थी। इसी लापरवाही में डीएस को निलंबित कर दिया गया है।’

बच्चों के परिजन ने की थी शिकायत
बिहारशरीफ की प्रोफेसर कॉलोनी के रहने वाले निरंजन कुमार के बेटे पीयूष रंजन और आर्यन किरण को कोवैक्सिन की जगह कोविशील्ड का टीका लगा दिया गया था। जिसके बाद दोनों भाई को रही हल्की बुखार और बदन दर्द की शिकायत हुई थी। जिससे बच्चों के माता-पिता काफी चिंतित थे

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In कोरोना अपडेट

Leave a Reply

Check Also

जहरीली शराब से नालंदा में 10 लोगों की मौत ! जिम्मेदार कौन ?.. किसकी किसकी गई जान जानिए

नालंदा में लोगों का कहना है कि जहरीली शराब पीने से अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है । जबकि…