नालंदा में कोरोना से सुधा डेयरी के प्रबंधक और पैक्स अध्यक्ष समेत 3 की मौत

0

नालंदा जिला में कोरोना संक्रमण की रफ़्तार में काफी कमी आई है । लेकिन मौत का सिलसिला बदस्तूर जारी है । कोरोना की वजह से पैक्स अध्यक्ष, डेयरी इंजीनियर और एक किसान की मौत हो गई है । कोरोना की दूसरी लहर में अब तक 196 लोगो की मौत हो चुकी है।

74 नए मरीज मिले
कोरोना संक्रमण में कमी आने के साथ-साथ रिकवरी दर में भी सुधार हुआ है । पिछले 24 घंटे में सिर्फ 74 लोग संक्रमित मिले हैं । जबकि 107 लोग ठीक हुए हैं। सबसे ज्यादा थरथरी से 14,वेन से 13, सिलाव से 12, बिहारशरीफ में 9 लोग संक्रमित मिले हैं। वहीं सरमेरा से 5, गिरियक, हरनौत से 4, राजगीर, परवलपुर, नुरसराय से 2-2 और अस्थावां, एकंगरसराय, हिलसा, इस्लामपुर और रहुई से 1-1 मरीज मिले हैं।

इसे भी पढ़िए-सावधान! नालंदा में ब्लैक फंगस से पहली मौत.. कोरोना से ठीक होने पर हुआ था ब्लैक फंगस

पैक्स अध्यक्ष की मौत
रहुई प्रखंड के मोरा तालाब पैक्स अध्यक्ष प्रभात कुमार की कोरोना से मौत हो गई है । पैक्स अध्यक्ष प्रभात कुमार को इलाज के लिए पटना में भर्ती कराया गया था। जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। अस्थावां विधायक डॉ. जितेन्द्र कुमार ने उनके निधन पर गहरी संवेदना प्रकट करते हुए अपूरणीय क्षति बताया। नालंदा सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष अमरेन्द्र कुमार ने भी प्रभात कुमार के निधन पर शोक जताया।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में मिली अधजली लाश.. महिला के हाथ पांव बंधे थे

सुधा डेयरी के प्रबंधक की मौत
हरनौत के तेलमर गांव के रहने वाले 45 साल के डेयरी इंजीनियर अवनीश कुमार की कोरोना से मौत हो गई। वे करीब 15 दिन से पटना के निजी अस्पताल में भर्ती थे । अवनीश मुजफ्फरपुर में सुधा डेयरी में प्रबंधक के पद पर कार्यरत थे। कुछ दिन पहले ही वे मसौढ़ी में किसी रिश्तेदार के यहां शादी समारोह में शामिल हुए थे। वहां से लौटने के दो दिन बाद उन्हें बुखार आया था। जिसे उन्होंने गंभीरता से नहीं लिया था। बाद में तबियत बिगड़ने पर उन्हें पटना में भर्ती कराया गया। उन्हें वेंटिलेटर लगाया गया था। जहां उनकी मौत हो गई

इसे भी पढ़िए-ट्रक और कार में भीषण टक्कर, हादसे में अंचलाधिकारी (CO) की मौत

अवनीश कुमार के किराएदार की भी मौत
समय से कोरोना जांच नहीं होने का खामियाजा उनके एक किरायेदार को भुगतना पड़ा। मृतक अवनीश कुमार ने मुजफ्फरपुर में अपना घर बनाया है। जिसमें किरायेदार भी रहते हैं। उनके संपर्क के एक किरायेदार की मौत पांच दिन पहले कोरोना से हो गई थी। जबकि, उनका इलाज करने वाले डॉक्टर भी कोरोना पॉजीटिव बताये जाते हैं।

किसान की मौत
कोरोना की वजह से इस्लामपुर प्रखंड के शंकर विगहा गांव के रहने वाले एक किसान की भी मौत हो गई। 65 साल के किसान कृष्णनंदन प्रसाद को तबीयत खराब होने के बाद पावापुरी के विम्स में भर्ती कराया गया था। जहां वो कोरोना से जंग हार गए।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In कोरोना अपडेट

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में चलती स्कॉर्पियो में भीषण आग.. ड्राइवर की गलती से स्वाहा हुई गाड़ी

नालंदा जिला में चलती स्कॉर्पियो गाड़ी में भीषण आग लग गई। जिसके बाद सड़क पर कुछ देर के लिए …