सिपाहियों का बड़ा खुलासा.. कहा, ASP साहब अपने घर बुलाकर शरीर में तेल लगवाते हैं

0

बिहार पुलिस के बड़े अफसर एक बार फिर सवालों के घेरे में है। IPS विकास वैभव का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि अब एक और मामला सामने आया है । जिसमें सिपाहियों ने अपने ASP यानि सहायक पुलिस अधीक्षक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

क्या है मामला
दरअसल, पटना में तैनात ASP के खिलाफ 7 पुलिसकर्मियों ने मोर्चा खोल दिया है। राजधानी पटना में तैनात 7 पुलिसकर्मियों ने पटना SSP को पत्र लिखकर अपनी पीड़ा बतायी है। पुलिसकर्मियों का आरोप है कि ASP अपने घर पर बुलाकर शरीर में पैर-हाथ दबवाते हैं और शरीर में तेल लगवाते हैं। साथ ही अपने कपड़े भी धुलवाते हैं।
फुलवारीशरीफ के ASP पर गंभीर आरोप, पढ़िये पूरी शिकायत

ASP पर क्या लगाए आरोप
पटना के फुलवारीशरीफ में ASP पद पर तैनात मनीष कुमार पर आरोप लगाए हैं। SSP को भेजे शिकायत पत्र में लिखा है कि हम 06 पुरुष और 04 महिला सिपाही कुल 10 पुलिसकर्मी दिनांक 27.08.22 को पुलिस केन्द्र से आदेश पत्र लेकर अनुमण्डल पुलिस पदाधिकारी, फुलवारी शरीफ, पटना के पास बज्र लेकर QRT एवं विधि-व्यवस्था ड्यूटी करने हेतु योगदान दिये. अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी महोदय (ASP) फुलवारी शरीफ द्वारा हम सभी पुरुष पुलिसकर्मियों को अपने आवास पर बुलाकर विधि-व्यवस्था ड्यूटी न लेकर अपने निजी कार्यों यथा पैर दबवाना, पूरे शरीर में तेल लगवाने, कपड़ा साफ करवाने का काम करवाया इसके अलावे अन्य बहुत सारे काम करने हेतु आदेशित किया जाता है और नहीं करने पर मारपीट किया जाता है. साथ ही निलंबित करने का धमकी भी दिया जाता है, जिसका उल्लेख इस आवेदन में करने में हम लोगों को काफी शर्मिंदगी महसूस हो रही है।

पुलिस में आकर अपराध कर दिया
इतना ही नहीं पुलिसकर्मियों ने लिखा है कि अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी महोदय, के इस प्रकार के अमानवीय कृत से हमलोग काफी तंग हो चुके हैं और हमलोगों में से एक-दो पुलिसकर्मी डिप्रेशन के भी शिकार हो चुके हैं, जिसके कारण किसी अप्रिय घटना को घटित होने से कतई इनकार नहीं किया जा सकता है. जब कभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के द्वारा अपने आवास पर बुलाया जाता है तो हमलोग उनके अमानवीय कृत को याद कर काफी डर जाते हैं और यह सोचने पर मजबूर हो जाते हैं कि शायद हमलोग सिपाही के पद पर नियुक्त होकर कोई बड़ा अपराध कर दिये हैं।

आवेदन देने वाले सिपाहियों ने एसएसपी को लिखा है- हम सभी पुलिसकर्मी आपका ही एक अंग है और आपके ही सहारे हम लोग किसी संस्थान या किसी स्थान पर रात-दिन बिना किसी डर-भय के निर्भिक होकर अपने कर्तव्य का निर्वहन करते रहते हैं. हम सभी लोगों को पूर्ण विश्वास रहता है कि हमलोगों के साथ उत्पन्न किसी भी प्रकार के समस्याओं को सुनने एवं निदान करने के लिए एक अभिभावक स्वरूप सदैव तत्पर रहते हैं वह और कोई नहीं बल्कि महोदय आप(SSP) हैं. उसी उम्मीद एवं आशा के साथ हमलोग इस अभ्यावेदन के माध्यम से भवदीय से सादर अनुरोध कर रहे हैं कि उपरोक्त तथ्यों के आलोक में जाँच कर हमलोगों के संबंध में यथोचित निर्णय लेते हुए आदेशित करने की कृपा की जाय. आवश्यकता पड़ने पर साक्ष्य भी आपके समक्ष प्रस्तुत कर सकते हैं।

सिपाहियों का ये पत्र औऱ उसके साथ साथ एक वीडियो भी वायरल हुआ है. जिसमें फुलवारी के एएसपी सिपाहियों से हाथ पैर दबवा रहे हैं. फुलवारीशरीफ के एएसपी पद पर तैनात मनीष कुमार अक्सर विवादों में रहे हैं. वे लंबे समय तक बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की निजी सुरक्षा में तैनात रहे हैं. कई विवादों में पड़ने के बावजूद उनके खिलाफ कभी कोई कार्रवाई नहीं हुई।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In पुलिस प्रशासन

Leave a Reply

Check Also

बिहार में महागठबंधन को एक और बड़ा झटका.. एक और विधायक का विकेट गिरा.. जानिए पूरा मामला

बिहार में महागठबंधन को एक और बड़ा झटका लगा है । पहले स्पीकर की कुर्सी गई.. फिर फ्लोर टेस्ट…