Home बिहार शरीफ बिहार थाना के सामने लाखों की लूट…बाइक सवार ने वारदात को दिया अंजाम

बिहार थाना के सामने लाखों की लूट…बाइक सवार ने वारदात को दिया अंजाम

0

स्मार्ट सिटी बिहारशरीफ में छिन्नैती और झपटामारी की वारदात दिनों दिन बढ़ती जा रही है। हालात ये है कि शहर का सबसे सुरक्षित और हाईप्रोफाइल माना जाने वाला इलाका भी अब सुरक्षित नहीं है । बिहार थाना के सामने बाइक सवार झपट्टामारों ने वारदात को अंजाम दिया है। जिससे शहर की कानून व्यवस्था पर एक बार फिर सवालिया निशान खड़ा हो गया है।

क्या है पूरा मामला
पटेल नगर के रहने वाले अनिल कुमार सिन्हा पंजाब नेशनल बैंक से पैसे निकालकर अपने घर जा रहे थे। उनका घर पंजाब नेशनल बैंक से महज कुछ मीटर की दूरी है। इसलिए वे पैसे निकालकर पैदल ही जा रहे थे। उन्होंने थैले में पैसे को रखा था। जैसे ही वो बिहार थाना के सामने वाली या यूं कहें नालंदा कॉलेज के पीछे वाली गली में पहुंचे वैसे ही झपट्टामारों ने वारदात को अंजाम दिया

चोर चोर का शोर मचाने का भी नहीं हुआ फायदा
पीड़त अनिल कुमार सिन्हा का कहना है कि वो पंजाब नेशनल बैंक से डेढ़ लाख रुपए निकालकर अपने घर जा रहे थे। जैसे ही वो नालंदा कॉलेज के पीछे वाली गली पहुंचे। वैसे ही एक बाइक पर दो बदमाश आए और थैला छीनकर फरार हो गए। इसके बाद उन्होंने चोर चोर का शोर मचाया । लेकिन इसका कोई फायदा नहीं हुआ।

थानाध्यक्ष का क्या कहना है
बिहार थाना के नए थानाध्यक्ष दीपक कुमार का कहना है कि इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है और जल्द ही बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया गया है ।

अब तक क्यों हैं पुलिस के हाथ खाली
बिहारशरीफ में छिन्नैती ये कोई पहली वारदात नहीं है। रोजाना कहीं न कहीं झपट्टामारी की घटना सामने आ रही है। कभी किसी का कीमती मोबाइल तो कभी नकदी पर बदमाश हाथ साफ कर रहे हैं। बदमाशों के निशाने पर सबसे ज्यादा बुजुर्ग और महिलाएं हैं। ऐसे में पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठना लाजमी है कि आखिर आज तक पुलिस उस गिरोह तक क्यों नहीं पहुंच पाई है? जो वारदात को अंजाम दे रहे हैं.

नालंदा लाइव की सलाह
नालंदा लाइव की लोगों को सलाह है कि जब भी बैंक से पैसे निकालकर आप अपने घर जा रहे हैं तो उन्हें सचेत रहने की जरुरत है। तेज गति से अगर कोई बाइक आगे या पीछे से आ रही है तो आपको और सचेत हो जाना चाहिए। सड़क के एकदम बाएं चलें और बाएं हाथ में थैला रखें। ताकि झपट्टामार की पकड़ आप से दूर रहे। सड़क पर चलते समय मोबाइल का कम से कम प्रयोग करें। अगर आपको बात करनी है तो किनारे में जाकर पहले फोन पर बात कर लें फिर चलें। इन कुछ चीजों को अपनाकर आप झपट्टामारी से बच सकते हैं।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In बिहार शरीफ

Leave a Reply

Check Also

नियोजित शिक्षकों को मिलने वाली है सबसे बड़ी खुशखबरी.. नियोजित टीचर अब बनेंगे…

बिहार में नियोजित शिक्षकों को बहुत बड़ी खुशखबरी मिलने वाली है. समान काम के लिए समान वेतन क…