Home अन्य जिले जेडीयू के लिए अब RCP सिंह की पत्नी ने संभाला मोर्चा

जेडीयू के लिए अब RCP सिंह की पत्नी ने संभाला मोर्चा

0

जेडीयू के चाणक्य और राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह उर्फ रामचंद्र प्रसाद सिंह की पत्नी गिरिजा सिंह ने अब जेडीयू के लिए मोर्चा संभाल लिया है। अब तक वो राजनीति से दूरी बनाकर रह रहीं थीं। लेकिन अब वो राजनीति में भी अपने पति के साथ कदमताल करते नजर आएंगी ।

जेडीयू का दलित-महादलित सम्मेलन 

बिहारशरीफ के श्रमकल्याण केंद्र मैदान में  6 अक्टूबर को जेडीयू ने दलित- महादलित सम्मेलन का आयोजन किया है। सम्मेलन जेडीयू के गढ़ नालंदा में हो रहा है । ऐसे में सम्मेलन को सफल बनाने के लिए पार्टी में नंबर दो की हैसियत रखने वाले आरसीपी सिंह की पत्नी ने मोर्चा संभाला है। आरसीपी सिंह की पत्नी गिरिजा सिंह ने सम्मेलन की तैयारियों को लेकर बैठक कीं। जिसमें जेडीयू नेता  मुन्ना सिद्दकी,  मुखिया उपेंद्र प्रसाद, जिला पार्षद बालमुकुंद पासवान और दलित-महादलित प्रकोष्ठ के अन्य नेता एवं सरपंच बबलू पासवान, बालेश्वर पासवान ने हिस्सा लिया

इसे भी पढ़िए-नालंदा की लेडी सिंघम को मिला बाढ़ की कमान

‘सम्मेलन में शामिल होंगे आरसीपी सिंह’

गिरिजा सिंह ने बताया कि सम्मेलन के मुख्य अतिथि आरसीपी सिंह होंगे. सम्मेलन में संगठन प्रभारी विद्यानंद विकल,विधायक रवि ज्योति, मनीष कुमार, महादलित प्रकोष्ठ के अध्यक्ष हुलेश मांझी, जदयू नेता मनोज तांती,पवन रजक भी शिरकत करेंगे. बैठक में  उन्होंने लोगों से सम्मेलन में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने की अपील की.

‘विकासपुरुष हैं नीतीश,लालू विनाश पुरुष’

आरसीपी सिंह की पत्नी गिरिजा सिंह ने जहां नीतीश कुमार को विकास पुरुष बताया तो वहीं लालू को उन्होंने विनाशपुरुष करार दिया। उन्होंने कहा कि नीतीश राज में बिहार तरक्की कर रहा है। सरकारी योजनाओं से गरीब और वंचित लाभान्वित हो रहे हैं जबकि लालू के राज में सिर्फ अपराध का ही बोलबाला था। उन्होंने शराबबंदी के फायदे भी गिनवाए । गिरिजा सिंह ने कहा कि शराबबंदी से महिलाएं सबसे ज्यादा खुश दिख रही है. पहले आए दिन घर में शराब के कारण मारपीट की खबर आती थीं।  अब शराब के जगह साग- सब्जी नजर आ रहे हैं. शराबबंदी के कारण अब हर घर खुशहाल नजर आ रहे हैं.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अन्य जिले

Leave a Reply

Check Also

विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने लोजपा ( LJP) को दिया बड़ा झटका..

बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) का बिगुल बज चुका है. लेकिन सीट बंटवारे …