BPSC में दो दोस्तों की सफलता की कहानी.. साथ-साथ पढ़ाई की.. साथ-साथ सफलता पाई

0

बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित BPSC 64वीं संयुक्त परीक्षा के परिणाम घोषित कर दिए गए हैं। विद्यासागर BPSC 64वीं संयुक्त परीक्षा के सेकेंड टॉपर हैं। उनकी दोस्त प्रिया गुप्ता को भी सफलता मिली है। विद्यासागर और प्रिया दोनों ने बचपन से ही साथ पढ़ाई की है।

साथ-साथ पढ़ाई की साथ-साथ सफलता मिली
विद्यासागर और प्रिया गुप्ता दोनों ने ही जवाहर नवोदय विद्यालय में साथ-साथ पढ़ाई की । स्कूल में पढ़ाई के दौरान ही दोनों में दोस्ती हुई। BPSC की तैयारी के पहले दोनों ने ही इंजीनियरिंग की भी पढ़ाई की। इसके बाद साथ में ही तैयारी की और सफलता मिली। विद्यासागर ने BPSC में दूसरा स्थान पाया है तो प्रिया को सप्लाई इंस्पेक्टर का पद हासिल हुआ है। दोनों ने बताया कि दोस्त से उन्हें तैयारी में बहुत मदद मिली। विद्यासागर और प्रिया गुप्ता दोनों ही बिहार के सुपौल जिले के रहने वाले हैं।

पहले विद्यासागर का सवाल जवाब
सवाल- सबसे पहले आपको बधाई। ये बताएं कि आपने तैयारी कहां रहकर की?
जवाब- मैं दिल्ली में रहता हूं और यहां रहकर ही पढ़ाई की। हालांकि, 10वीं की पढ़ाई मैंने सुपौल नवोदय विद्यालय से की और 12वीं की पढ़ाई भागलपुर नवोदय विद्यालय से।

सवाल- आगे की पढ़ाई कहां से हुई ?
जवाब- इंजीनियरिंग मैंने NIT तिरची से बीटेक किया।

सवाल– अपने परिवार के बारे में कुछ बताएं ?
जवाब- मेरी मां गृहिणी हैं और उनका नाम पावित्री देवी है। मेरे पिता जी का नाम हरिनंदन यादव है और वे सुपौल में प्राइमरी टीचर हैं। हम लोग दो भाई और एक बहन हैं। भाई-बहन मुझसे छोटे हैं।

सवाल- आपकी सफलता में सबसे ज्यादा किसका सपोर्ट रहा ?
जवाब- मेरी सफलता में मेरे परिवार का बड़ा सपोर्ट रहा। पढ़ाई के तुरंत बाद मेरा प्लेसमेंट हो गया था, पर मैंने नौकरी छोड़ दी। प्रीपरेशन में तनाव काफी हो रहा था। रिजल्ट काफी दिनों बाद आया, आप समझ सकते हैं। ऐसे में मेरी दोस्त प्रिया गुप्ता का सपोर्ट खूब रहा।

इसे भी पढ़िए-बीपीएससी 64वीं संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा का अंतिम परिणाम जारी, जानिए कौन-कौन बने टॉपर्स

सवाल- प्रिया गुप्ता कहां रहती हैं?
जवाब- वह सुपौल में ही रहती हैं। उनका भी BPSC में चयन हो गया है।

सवाल- BPSC में चयन से पहले आप क्या कर रहे थे ?
जवाब- इंजीनियरिंग तो मैने अभिभावक के कहने पर कर ली थी। लेकिन जब मेरा प्लेसमेंट ‘कैप जिनमी’ नामक कंपनी में हुआ तो उसे छोड़ दी और UPSC की तैयारी करने लगा। मेरा चयन पिछले साल IRAS यानी इंडियन रेलवे एकाउंट सर्विस के लिए हो गया और दिसंबर 2020 में मैंने उसे ज्वाइन भी कर लिया। अभी उसी सर्विस में हूं। BPSC में मेरा प्रथम प्रयास था।

सवाल- आप BPSC ज्वाइन करेंगे कि नहीं ?
जवाब- अभी तो रिजल्ट ही आया है। अभी कुछ कहना मुश्किल है।

सवाल- आपका ऑप्शनल पेपर क्या था?
जवाब- गणित।

सवाल- तैयारी में लगे यूथ के लिए सूत्र बता दीजिए ?
जवाब- BPSC की तैयारी करने वाले चार बातों का ध्यान रखें। पहला यह कि डायरेक्शन सही होना चाहिए कि क्या पढ़ना है, क्या नहीं। दूसरी बात यह कि मोटिवेशन होना चाहिए। तीसरी बात, धैर्य रखना पड़ेगा और चौथी बात यह कि कठिन परिश्रम करना पड़ेगा। यानी पढ़ाई तो जम कर करनी ही पड़ेगी। इसका कोई विकल्प नहीं। इसके लिए अब आपके पास ऑन लाइन रिसोर्स काफी हैं।

अब पढ़िए, प्रिया गुप्ता से बातचीत

सवाल- आपको बधाई। आपकी पढ़ाई कहां से हुई?
जवाब- मैंने 6 से 12 तक की पढ़ाई नवोदय विद्यालय से की। इसके बाद बीटेक 2017 में हरियाणा से किया इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन में।

सवाल- बीटेक करने के बाद इंजीनियरिंग में नहीं गईं?
जवाब- नहीं, बीटेक करने के बाद BPSC की तैयारी में लग गई। यह मेरा प्रथम प्रयास था।

सवाल- अपने परिवार के बारे में बताएं ?
जवाब- मेरे पिता जी का नाम परमानंद गुप्ता है और वे किसान हैं। मेरी मां का नाम देवकी देवी है। वह गृहिणी हैं। हम तीन बहन हैं, जिसमें मैं सबसे छोटी हूं।

सवाल- आपका ऑप्शनल पेपर क्या था?
जवाब- समाजशास्त्र।

सवाल- तैयारी कैसे की आपने?
जवाब- सेल्फ स्टडी ही की।

सवाल- इतनी लंबी प्रक्रिया चली। कोरोना का समय रहा। तनाव नहीं हुआ?
जवाब- घर से बाहर रह कर तैयार करती तो ज्यादा तनाव होता। घर पर थे तो तनाव कम रहा।

सवाल- आपकी सफलता में किसका सहयोग सर्वाधिक रहा ?
जवाब- मां, पिता सभी का सहयोग मिला। मेरे दोस्त विद्यासागर से काफी मदद मिली। उन्होंने बताया कि क्या पढ़ना है, क्या नहीं पढ़ना है और कितना पढ़ना है।

सवाल- रिजल्ट से कितनी खुशी हुई है?
जवाब- खुशी तो है पर रैंक बेहतर होती तो ज्यादा खुशी होती। मुझे सप्लाई इंस्पेक्टर का पद मिला है। ज्वाइन करने के बाद फिर से BPSC दूंगी।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

चिराग पासवान को मिला RJD और कांग्रेस का ऑफर.. बीजेपी ने बताया फ्यूज बल्ब

चाचा पशुपति पारस से धोखा मिलने के बाद चिराग पासवान के आगे की रणनीति क्या होगी । इस पर सस्प…