बिहार में शिक्षक भर्ती की काउंसिलिंग के लिए शिक्षा विभाग ने रखी शर्त.. अब अभ्यर्थियों को रखना होगा..

0

बिहार में प्रारंभिक स्कूलों में 94 हजार शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर शिक्षा विभाग दिशा निर्देश जारी कर दिया है । शिक्षा विभाग ने काउंसिलिंग में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों के सामने शर्त रखा है और कहा है कि जिन अभ्यर्थियों के ये डॉक्यूमेंट नहीं होंगे उन्हें काउंसिलिंग में शामिल नहीं होने दिया जाएगा।

अभ्यर्थियों के लिए पहचान पत्र जरूरी
शिक्षा विभाग ने अपने आदेश में कहा है कि काउंसिलिंग में शामिल होने वाले सभी अभ्यर्थियों के पास फोटोयुक्त पहचान पत्र होना जरूरी है । यानि काउंसिलिंग के लिए अभ्यर्थियों को आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि में से कोई एक लाना अनिवार्य होगा।

इसे भी पढ़िए-रिजल्ट की खुशी मनाने से पहले अविनाश की मौत, BPSC में पास होने पर रोया पूरा परिवार

पांच घंटे चलेगी काउंसिलिंग
शिक्षा विभाग के मुताबिक सभी नियोजन इकाई में काउंसिलिंग का आयोजन पांच घंटे लिए होगा। यानि काउंसिलिंग की प्रक्रिया सुबह 11.30 से शाम 4.30 तक होगी।

इसे भी पढ़िए-आमिर खान .. आखिर हर 15 साल में पत्नी को क्यों देते हैं तलाक ?

कब जारी होगा रिजल्ट
रिजल्ट की घोषणा भी उसी दिन काउंसिलिंग समाप्त होने के डेढ़ घंटे के बाद कर दिया जाएगा। यानि काउंसिलिंग वाले दिन शाम 6 बजे तक चयनित अभ्यर्थियों का नाम घोषित कर दिया जाएगा ।

काउंसिलिंग के बाद सर्टिफिकेट की जांच
अभ्यर्थियों के चयन के बाद उनके सर्टिफिकेट की जांच होगी। ये काउंसिलिंग वाले रिजल्ट के अगले दिन शाम 4 बजे तक होगा ।

किन किन सर्टिफिकेट की जांच होगी
काउंसिलिंग में अभ्यर्थियों को मैट्रिक, इंटर, स्नातक, प्रशिक्षण का अंक पत्र और प्रमाण पत्र, शिक्षक पात्रता परीक्षा का अंकपत्र, आरक्षित कोटि के अभ्यर्थियों के लिए जाति प्रमाण पत्र और आवासीय प्रमाण पत्र सबको लाना अनिवार्य है। वहीं,पिछड़ी और अति पिछड़ी जाति के लिए आय प्रमाण पत्र, आर्थिक रूप से पिछड़े होने का प्रमाण पत्र , स्वतंत्रता सेनानी के उत्तराधिकारी होने का प्रमाण पत्र, दिव्यांगता प्रमाण पत्र संबंधितों को लाना होगा। सभी शैक्षिक और प्रशैक्षिक प्रमाण पत्र का मूल और उसकी दो-दो सेल्फ अटेस्टेड फोटो कॉपी भी लानी होगी । किसी योग्यता का मूल प्रमाण पत्र नहीं रहने पर औपबंधिक सर्टिफिकेट भी मान्य होगा।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में रफ्तार का कहर.. बेकाबू ट्रक ने तीन युवकों रौंदा.. तीनों की मौत

नालंदा जिला में एक बार फिर तेज रफ्तार ने तीन युवकों की जान ले ली है । बताया जा रहा है कि ब…