बेऊर जेल में ऐश कर रहे थे बाहुबली अनंत सिंह.. तीन जेल वार्डन सस्पेंड.. सैप जवान बर्खास्त

0

बिहार के बाहुबली विधायक और छोटे सरकार के नाम से मशहूर मोकामा के विधायक अनंत सिंह को जेल में अय्याशी करते पकड़े गए । इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए जेल के तीन वार्डन को तत्काल सस्पेंड कर दिया गया । जबकि सैप के एक जवान को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया ।

क्या है मामला
दरअसल, इस बात का खुलासा उस वक्त हुआ, जब पटना के डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह और एसएसपी डॉ मानवजीत सिंह के नेतृत्व में बेऊर जेल में छापेमारी की गई। इस दौरान फुलवारीशरीफ के एएसपी मनीष कुमार भी मौजूद थे। डीएम चंद्रशेखर सिंह अपने साथ 100 पुलिस के जवानों को लेकर छापेमारी करने गए थे।

गुप्त रखी गई थी कार्रवाई
पटना के डीएम और एसएसपी ने इस कार्रवाई को इतने गुप्त तरीके से अंजाम दिया कि जेल के किसी अधिकारी या कर्मचारी को कानोंकान खबर नहीं लगी। पुलिस की टीम ने बेऊर जेल के एक-एक सेल और खंड को खंगालना शुरू किया । बाहुबली विधायक अनंत सिंह के एमपी-एमएलए (उच्च स्तरीय सेल) खंड में रखे गए हैं ।

ऐश करते दिखे अनंत सिंह
छापेमारी के दौरान अनंत सिंह ऐशोआराम करते दिखे। मोकामा विधायक अनंत सिंह मोबाइल फोन से बात कर रहे थे और सिगरेट का धुआं उड़ा रहे थे. इतना ही नहीं उनकी सेवा में दो के बजाये नौ सेवादार और सुरक्षा में पुलिस के जवान भी लगे थे.

अनंत सिंह के बैग में क्या क्या मिला
बेऊर जेल में रेड के दौरान अनंत सिंह के बैग से एक सिम कार्ड सहित मोबाइल फोन, सिगरेट के डिब्बे और मोबाइल नंबरों की लिस्ट के कागजात मिले. अन्य खंडों की जांच में नौ हीटर स्प्रिंग भी बरामद किये गये.

तीन वार्डन सस्पेंड
जिसके बाद पटना के डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह के तुरंत कार्रवाई करते हुए तीन जेल वार्डन सुरेंद्र कुमार, वीरेंद्र कुमार और विकासचंद्र सिंह को तत्काल निलंबित कर दिया. साथ ही सुरक्षा और जांच में लगे सैप जवान गौरीशंकर को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया.

नौ सेवादारों पर भी कार्रवाई
बेऊर जेल के अधीक्षक जीतेंद्र कुमार को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है औऱ 24 घंटे के भीतर जवाब मांगा गया है। जिलाधिकारी डॉ चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि काराधीक्षक को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है क्योंकि जेल को लेकर सारी जिम्मेदारी उनकी ही हैं. साथ ही अनंत सिंह की सेवा में लगे सभी नौ सेवादारों को हाई सिक्यूरिटी सेल में बंद कर दिया गया है.

अनंत सिंह पर FIR
इसके साथ ही मोकामा विधायक अनंत सिंह के खिलाफ में बेऊर थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी गयी है. माना जा रहा है कि उन जेल कर्मियों पर भी गाज गिरना तय है जिन्होंने अनंत सिंह के सिविल कोर्ट से जेल आने के बाद उनके व्हील चेयर की जांच की थी.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

अजब बिहार में गजब की चोरी.. 500 मीटर लंबी रेल पटरी उखाड़कर कबाड़ी को बेच दिया.. जानिए पूरा मामला

बिहार में चोरी की घटना तो आम बात है। कभी पुल की चोरी तो कभी चारा की चोरी. अब पटरी चोरी की …