बिहारशरीफ में जहरीली शराब का कहर.. कई लोगों की मौत.. जानिए पूरा मामला

0

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा में जहरीली शराब का कहर टूटा है । जहरीली शराब पीने से बिहारशरीफ में जहां 4 लोगों की मौत हो गई है । वहीं दो लोगों की मौत मानपुर थाना क्षेत्र में हुई है ।

बिहारशरीफ में कहां की घटना
सोहसराय थाना इलाके के छोटी पहाड़ी और पहाड़तल्ली मोहल्ला में जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की एक साथ मौत हो गई है । जबकि दो लोगों की हालत गंभीर है । उन्हें इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है ।

परिजन का आरोप
मृतक के परिजनों का आरोप है कि शराब पीने के बाद उन लोगों की तबीयत बिगड़ी.. जिसके बाद उनकी मौत हो गई। हालांकि आधिकारिक तौर पर शराब पीने से मौत की पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन आसपास के लोगों का कहना है कि चुलाई शराब पीने से लोगों की मौत हुई है ।

उल्टी के बाद मौत
परिजनों का कहना है किपहाड़तल्ली में ही बीती शाम किसी वृद्धा के यहां जाकर शराब पी थी। शराब सेवन करने के बाद लौटे लोगों की तबीयत अचानक खराब होने लगी उल्टी और दस्त की शिकायत पर सभी परिजनों के द्वारा अपने अपने लोंगो को अलग अलग निजी  क्लिनिक में भर्ती कराया  था।  जहां से एक-एक कर सभी लोगों की मौत होने लगी।

किस-किस की मौत
बिहारशरीफ में जिन चार लोगों की मौत हुई है उसमें 55 साल के भागो मिस्त्री, 55 साल केही मन्ना मिस्त्री,50 साल के धर्मेंद्र उर्फ नागेश्वर और 50 साल के ही कालीचरण शामिल हैं ।

ललिता देवी ने क्या कहा
मृतक भागो मिस्त्री की बहू ललिता देवी ने बताया कि उनके ससुर शराब का सेवन करने के बाद घर आए थे। इसके बाद वे खाना खाकर सोने गए थे। लेकिन उन्हें उल्टी और दस्त होने लगी। पहले तो लगा कि ठंड की वजह से हो रहा है। जिसके बाद अलाव जलाकर गर्मी देने की कोशिश की गई। हालत ज्यादा खराब हुई तो निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया । जहां उनकी मौत हो गई ।

मन्ना मिस्री की बेटी का बयान
मृतक मन्ना मिस्त्री की बेटी ज्योति कुमारी ने बताया कि लगातार उनके पिता 4 दिन से शराब का सेवन कर रहे थे कल अचानक उनकी तबीयत खराब हो गई जिसके बाद निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। उनके पिता बस बॉडी बिल्डर में काम कर अपने परिवार का भरण पोषण कर रहे थे।

मानपुर में भी कहर
मानपुर थाना क्षेत्र के प्रभु विगहा गांव में भी जहरीली शराब पीने से मौत की बात सामने आई है। मृतक रामरूप चौहान और शिवजी चौहान है दोनों की उम्र 45 साल से ऊपर है। हालांकि इन दिनों की मौत की पुष्टि भी आधिकारिक तौर पर अभी तक नहीं हुई है

(( सूरज कुमार की रिपोर्ट))

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

नीतीश कुमार के दुश्मन नंबर वन को अमित शाह ने दिया Z कैटगरी की सुरक्षा.. जानिए पूरा मामला

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दुश्मन नंबर वन को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बड़ा…