बिहार के 12 लाख किसानों को नहीं मिलेगी पीएम सम्मान योजना की किस्त.. जानिए क्यों

0

बिहार के 12 लाख से ज्यादा किसानों के लिए बुरी ख़बर है । उन्हें पीएम किसान सम्मान योजना(PM Kisan Samman Nidhi Scheme) की अगली किस्त नहीं सकती है।  केंद्र सरकार के एक फैसले की वजह से बिहार के किसानों पर ग्रहण लग सकता है। अगर आप चाहते हैं कि आपको पीएम किसान सम्मान निधि का पैसा मिले तो पूरी ख़बर को डिटेल से पढ़िए। जिसमें बताया गया है कि पैसे लेने के लिए अब आपको क्या करना होगा

किस फैसले की वजह से फंसा पैसा
दरअसल, केन्द्र सरकार ने एक अप्रैल से ये व्यवस्था लागू कर दी कि जिन किसानों का खाता आधार और नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI)से लिंक नहीं होगा, उन्हें अब राशि का भुगतान नहीं किया जाएगा। राज्य में ऐसे किसानों की संख्या 12 लाख 29 हजार 800 है।

कुछ किसानों के साथ ये समस्या है
वहीं, बिहार के 94 हजार 799 किसानों के आवेदन और आधार के नाम में अंतर है। ऐसे में इन किसानों को भी भुगतान नहीं किया जाएगा । ऐसे में इन किसानों को जल्द ई केवाईसी करना होगा।

एनपीसीआई से लिंक कराएं किसान
सभी जिला कृषि अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि कृषि समन्वयक और सलाहकारों को लगाकर किसानों की समस्या का निराकरण जल्द करा दें, ताकि किसानों का भुगतान रुके नहीं। उन्होंने किसानों से भी अपील की है कि बैंक में जाकर आवेदन दें और अपने खाते को आधार के साथ एनपीसीआई से लिंक करा लें। ये काम बैंक के अधिकारी करेंगे, लेकिन आवेदन उन्हें देना होगा।

अब आधार आधारित भुगतान
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का भुगतान अब आधार आधरित ही होगा। इसी के साथ किसानों को अपने खाते को एनपीसीआई से भी जोड़ना होगा। यह काम तो बैंक करेंगे लेकिन इसके लिए किसानों को बैंक की शाखा में खुद जाकर अनुरोध करना होगा। यह नई व्यवस्था एक अप्रैल से पूरे देश में लागू हो गई।

खुद भी दुरुस्त करा सकते हैं
जिन किसानों के आधार और आवेदन के नाम में अंतर है, वे खुद मोबाइल से इसे दुरुस्त कर सकते हैं। पीएम किसान पोर्टल पर जाने के बाद अगर कहता है कि आधार वेरिफायड नहीं है तो समझ जाएं कि नाम में अंतर है। नाम हर हाल में दोनों जगह अंग्रेजी में हो। स्पेलिंग में भी अंतर नहीं होना चाहिए। इसके लिए पोर्टल पर प्रक्रिया शुरू करते ही कैप्चा आएगा, जिसे डाल नाम दुरुस्त कर सकते हैं।

11वीं किस्त पाना चाहते हैं तो eKYC को अपडेट
स्टेप 1. सबसे पहले पीएम-किसान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
स्टेप 2. अब दाईं ओर उपलब्ध eKYC विकल्प पर क्लिक करें।
स्टेप 3. इसके बाद आधार कार्ड नंबर, कैप्चा कोड दर्ज करें और सर्च पर क्लिक करें।
स्टेप 4. अब आधार कार्ड से लिंक्ड मोबाइल नंबर दर्ज करें।
स्टेप 5. अब ‘गेट ओटीपी’ पर क्लिक करें और प्राप्त हुआ ओटीपी दर्ज कर दें। इसके साथ ही आपकी केवाईसी अपडेट (KYC Update) हो जाएगी।

कब तक अपडेट करना है eKYC
किसानों को पीएम सम्मान निधि योजना की किस्त पाने के लिए जल्द से जल्द अपनी केवाईसी (PM Kisan eKYC) अपडेट करानी होगी। केंद्र सरकार ने करोड़ों किसानों को राहत देते हुए ई-केवाईसी की आखिरी तारीख (PM Kisan eKYC Last Date) बढ़ा दी है। अब किसान 22 मई 2022 तक अपनी केवाईसी अपडेट करा सकते हैं। पहले यह तारीख 31 मार्च 2022 थी।

कितना पैसा मिलता है
पीएम किसान स्कीम के तहत सभी भूमिधारक किसानों के परिवारों को एक साल में हर चार महीने के अंतराल में 2000 रुपये की तीन किस्तें मिलती हैं। इस तरह हर साल 6,000 रुपये की राशि लाभार्थी किसानों को मिलती है। इस योजना के तहत पहली किस्त की अवधि एक दिसंबर 2018 से 31 मार्च 2019 थी। इसके बाद दूसरी किस्त की अवधि एक अप्रैल 2019 से 31 जुलाई 2019 थी। तीसरी किस्त की अवधि एक अगस्त 2019 से 30 नवंबर 2019 के बीच थी। इसी तरह आगे की अवधियों में किस्तें ट्रांसफर की गई हैं।

अब तक कितनी किस्तें मिल चुकी है
आपको बता दें कि पीएम किसान योजना के करोड़ों लाभार्थियों के खाते में अब तक योजना की 10 किस्तें ट्रांसफर हो चुकी हैं। गौरतलब है कि एक जनवरी 2022 को पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत 2,000 रुपये की यह 10 वीं किस्त किसानों के खातों में डाली गई थी। किसानों को अब पीएम किसान की 11वीं किस्त का इंतजार है। पीएम मोदी (PM Modi) ने साल 2018 में किसान सम्मान निधि योजना को लॉन्च किया था।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

बिहार में 19 जिलों के भू-अर्जन पदाधिकारी बदले गए.. जानिए कहां किनका तबादला

बिहार सरकार ने 19 जिलों के भू-अर्जन पदाधिकारी का तबादला कर दिया है। जिसमें नालंदा,जहानाबाद…