‘मौत’ का तूफान और ‘बर्बादी’ का बवंडर

0

सोमवार को देर शाम बिहार में आई तेज आंधी और तूफान ने भारी तबाही मचाई है।  आंधी, पानी और वज्रपात से बिहार में अबतक 30 लोगों के मारे जाने की खबरें सामने आ रही है । गया, कटिहार और औरंगाबाद में 4-4, नवादा में दो, मुंगेर में दो और रोहतास में एक की मौत हो गयी। तूफान के बाद कई इलाकों में बिजली अबतक गुल है । तो कई जगहों पर पोल और पेड़ गिर गए हैं। हालांकि इस दौरान हुई बारिश से लोगों को गर्मी से राहत भी मिली है। तापमान में आज 7 डिग्री तक कमी दर्ज की गई है ।

राजगीर में उड़ गए कई पंडाल

राजगीर में चला रहा मलमास मेला भी बवंडर का शिकार हुआ। तेज आंधी तूफान ने  मलमास मेला में लगे खेल-तमाशे को तहस-नहस कर दिया। कई पंडाल गिर गये। इस दौरान मेले में लगाये गये सर्कस, जादूगर, डिजनीलैंड मेला, नाग-नागिन, कृषि और ग्रामश्री मेला के पंडाल ध्वस्त हो गये, जिसके कारण इन सभी खेल-तमाशों को सोमवार की रात बंद करना पड़ा।

बवंडर ने गुल किया बिजली

बिहारशरीफ समेत नालंदा जिला के कई इलाकों में आंधी की वजह से पेड़ गिर गए जबकि कई जगहों पर बिजली के खंभे गिर गए। जिस वजह से कई गांवों और शहर के कई हिस्सों मे ं बिजली गुल है । तो वहीं, कई इलाकों मे ंजल जमाव भी देखने को मिला । हालांकि बारिश की वजह से तापमान में गिरावट दर्ज की गई । जिससे लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली है।

गया के खिजरसराय में अलग-अलग जगहों पर चार की जान चली गयी। मंडई में पेड़ के नीचे दबकर राजीव कुमार की मौत हो गई। दूसरी घटना में एक ही परिवार की खैरा की सुमित्रा देवी (45) और दुलारी देवी (60) की मौत दीवार गिरने से हो गई। इसके अलावा रसलपुर में आम के पेड़ की डाली की चपेट में आने से 12 वर्षीया सपना कुमारी की मौत हो गई।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में रफ्तार का कहर.. बेकाबू ट्रक ने तीन युवकों रौंदा.. तीनों की मौत

नालंदा जिला में एक बार फिर तेज रफ्तार ने तीन युवकों की जान ले ली है । बताया जा रहा है कि ब…