परीक्षार्थी ने उत्तर पुस्तिका में लिखा- कॉल मी सर, बाकी बातें फोन पर होंगी

0

आप अब तक सोशल मीडिया में ही इस तरह की बातें सुनते होंगे। लेकिन ये कोई मजाक नहीं है । बल्कि सच है। जिसमें परीथार्थियों ने तरह-तरह की बातें लिखी है । किसी ने लिखा कॉल मी सर, तो किसी ने लिखा आंख में दर्द था इसलिए तैयारी नहीं कर पाया तो कोई कोरोना की दुहाई देता रहा।

क्या है पूरा मामला
दरअसल, बिहार में पार्ट थ्री की परीक्षा की कॉपी जांचने के दौरान छात्रों के तरह-तरह के अनुरोध सामने आ रहे हैं। जिससे कॉपी जांचने वाले शिक्षक परेशान हो रहे हैं। छात्रों ने कॉपियों पर ऐसी-ऐसी बातें लिख दी हैं कि जिसे पढ़कर हंसी भी आती है और सोचने पर विवश भी कर देता है कि ये हाल अगर पार्ट थ्री के छात्रों का जो परिवक्व होते हैं।

इसे भी पढि़ए-सिन्धु घाटी सभ्यता की उत्पति के बारे में जानिए..

एक ने लिखा कॉल मी सर
परीक्षकों ने बताया कि कॉपी पर छात्रों ने उत्तर कम और ऐसी फिजूल की बातें अधिक लिखी हैं। ऐसी बातें लिखने से उन्हें कोई फायदा नहीं होने वाला। कॉपी जांच रहे एक परीक्षक ने बताया कि एक कॉपी पर छात्र ने अपना नंबर लिख दिया था और लिखा था कि प्लीज कॉल मी। उसने कॉपी पर उत्तर भी सही से नहीं लिखे हैं। कई कॉपियों में ऐसी बातें मिल रही हैं। छात्रों ने इस बार परीक्षा मन से नहीं दी है।

इसे भी पढ़िए-बिहार में बन रहा है देश का दूसरा Lotus Temple.. जानिए पूरी खासियत

दूसरे ने आंख दर्द का बहाना बनाया
अर्थशास्त्र की कॉपी जांचने वाले एक शिक्षक ने बताया कि एक छात्र ने कॉपी पर लिखा है कि परीक्षा के दौरान उसकी आंख में काफी दर्द था, इसलिए वह तैयारी नहीं कर सका। परीक्षा में उसे पास कर दें, इसके लिए वह शिक्षक का उपकार नहीं भूलेगा।

इसे भी पढ़िए-हिंदुओं के सबसे प्रिय भगवान कौन ? रिसर्च में दिलचस्प नतीजे..

कुछ ने कोरोना की दुहाई दी
वहीं,कुछ छात्रों ने लिखा है कि दो वर्ष कोरोना ने पढ़ाई को प्रभावित किया, स्मार्टफोन नहीं होने से ऑनलाइन क्लास भी नहीं कर सका। परीक्षा में फेल हुआ तो कहीं का नहीं रहूंगा। परीक्षकों ने बताया कि हर चौथे-पांचवें कॉपी में छात्रों की लिखी ऐसी बातें सामने आ रही हैं।

इसे भी पढि़ए-टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने खरीदी ये महंगी कार, कीमत होश उड़ा देंगी

15 दिनों में आ सकता है रिजल्ट
पार्ट थ्री का रिजल्ट मार्च के दूसरे सप्ताह में आने की उम्मीद है। परीक्षा विभाग के अनुसार कॉपियों की जांच काफी तेजी से चल रही है। आधी कॉपियों की जांच पूरी हो चुकी है। कॉपियों की जांच होने के बाद रिजल्ट बनाने की तैयारी शुरू कर दी जायेगी। पार्ट थ्री में 55 हजार छात्रों ने परीक्षा दी है। कॉपियों की जांच के लिए इस बार कई परीक्षकों की पहली बार ड्यूटी लगायी गयी है। एक महिला परीक्षक ने बताया कि वह 1996 से विवि में और पहली बार कॉपी की जांच कर रही हैं। कॉपी जांचने के लिए 200 से अधिक परीक्षकों की ड्यूटी लगी है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

दुल्हनिया संग हनीमून मनाने चले तेजस्वी यादव.. आरजेडी में मचा है घमासान

तेजस्वी यादव अपनी पत्नी राजश्री के साथ लंदन रवाना हो गए हैं। शादी के बाद ये उनकी पहली विदे…