नाम को लेकर बवाल, भीड़ ने मंत्री और विधायक के घरों को फूंका.. जानिए पूरा मामला

0

जिले का नाम बदलने को लेकर आंध्र प्रदेश में भारी बवाल मचा हुआ है। आंध्र प्रदेश के कोनासीमा जिले का नाम बदलने के विरोध में अमालापुरम में हिंसा भड़क गई। गुस्साई भीड़ ने परिवहन मंत्री विश्वरूपा और विधायक पी.सतीश के घर फूंक डाला है । साथ ही पुलिस की गाड़ियों में भी आग लगा दी है ।

मंत्री का परिवार सुरक्षित
अमलापुरम में उग्र भीड़ के देखते हुए पुलिस ने मंत्री और उनके परिवार को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया। गुस्साई भीड़ ने पुलिस के एक वाहन और एक बस में भी आग लगा दी गई है। पथराव में करीब 20 पुलिसवाले भी घायल हुए हैं।

इसे भी पढ़िए-पटना में बनेगी एक और हाईटेक सड़क; जानिए कहां कहां से गुजरेगी

क्या है मामला
दरअसल, आंध्र प्रदेश सरकार ने 4 अप्रैल को पूर्वी गोदावरी जिले से अलग कोनासीमा जिले का गठन किया था। पिछले दिनों इस जिले का नाम बदलकर बीआर अंबेडकर के नाम पर रख दिया। जिसका पर कोनासीमा साधना समिति ने विरोध करना शुरू कर दिया । वे जिले का नाम कोनासीमा ही रहने देने की मांग कर रहे हैं

इसे भी पढ़िए-कोचिंग के बाहर छात्राओं के दो गुटों में मारपीट, तमाशबीन बनकर देखते रहे लोग

भारी संख्या में पुलिस बल तैनात
प्रदर्शन को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस फोर्स की तैनाती की गई थी। पुलिस ने कुछ प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान कुछ युवक भाग निकले, जब पुलिस ने उनका पीछा किया तो प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर हमला कर दिया। भीड़ ने पुलिस पर जमकर पत्थरबाजी की। जवाब में पुलिस ने भी लाठी चार्ज किया। जिसके बाद हिंसा भड़क उठी।

इसे भी पढ़िए-RCP से डरे नीतीश कुमार, जारी किया बड़ा फरमान.. JDU के लिए अगले 72 घंटे भारी !

गृहमंत्री बोलीं-दोषियों को बख्शेंगे नहीं
आंध्र प्रदेश की गृहमंत्री तानेती वनिता ने हिंसा के लिए राजनीतिक पार्टियों पर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि कुछ राजनीतिक पार्टियों और असामाजिक तत्वों ने मिलकर हिंसा को भड़काया है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि घटना में करीब 20 पुलिस कर्मियों को चोट आई हैं। गृहमंत्री ने कहा कि हम इस मामले की जांच करेंगे और जो भी दोषी हैं, उन्हें सख्त से सख्त सजा दिलाएंगे।

13 नए जिले का गठन
दरअसल, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने विधानसभा चुनाव में आंध्र प्रदेश में नए जिले बनाने का वादा किया था। 2 अप्रैल की रात राज्य सरकार ने एक नोटिफिकेशन जारी कर 13 नए राज्यों के गठन की आधिकारिक घोषणा कर दी। इसके बाद 4 अप्रैल को ये राज्य अस्तित्व में आए गए। राज्य में अब कुल जिलों की संख्या 13 से बढ़कर 26 हो गई थी।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

बिहारशरीफ के हिरण्य पर्वत पर युवक का मर्डर.. जानिए पूरा मामला

बिहारशरीफ के हिरण्य पर्वत पर एक युवक की बदमाशों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी। मृतक के परिजनों …