बिहार में बनेगा विश्व रिकॉर्ड, गिनीज बुक में दर्ज होगा नया विश्व कीर्तिमान

0

बिहार एक बार फिर विश्व रिकॉर्ड बनाने के लिए बेकरार है। बाबू वीर कुंवर सिंह की जयंती पर एक और कीर्तिमान स्थापित होने जा रहा है । जब एक विश्व रिकॉर्ड टूटेगा और बिहार में नया विश्व कीर्तिमान स्थापित होगा । इस ऐतिहासिक क्षण को दर्ज करने के लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम भोजपुक के जगदीशपुर पहुंच चुकी है.

विश्व रिकॉर्ड बनाने का दावा
23 अप्रैल को भोजपुर के जगदीशपुर के दुलौर मैदान पर बाबू वीर कुंवर सिंह का विजयोत्सव समारोह मनाया जाएगा। जिसमें झंडा लेकर हाथ में लहराने का विश्व रिकॉर्ड बनेगा. इस दौरान पाकिस्तान का करीब 8 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ते हुए नया विश्व कीर्तिमान स्थापित किया जाएगा । जिसमें एक लाख से अधिक हिंदुस्तानी झंडे के लहराए जाएंगे

क्या है पाकिस्तान का रिकॉर्ड
दरअसल, एक साथ झंडा लहराने का विश्व रिकॉर्ड अभी पाकिस्तान के नाम है. एक मार्च, 2014 को पंजाब यूथ फेस्टिवल के मौके पर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत स्थित लाहौर नेशनल हॉकी स्टेडियम में एक साथ 56,618 झंडे लहराये गये थे, जो कि विश्व रिकॉर्ड है. जगदीशपुर में इस रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए डेढ़ लाख से अधिक तिरंगे की व्यवस्था कर रखी गयी है.

मंच पर सिर्फ तिरंगा दिखेगा
23 अप्रैल को आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह मुख्य अतिथि होंगे । इस मौके पर दोपहर साढे बारह बजे उपस्थित सभी लोग राष्ट्रगान गायेंगे. साथ ही एक साथ तिरंगा लहराया जायेगा. वीर कुंवर सिंह की पहचान के तौर पर आरा में प्रवेश करते हुए 21 फुट की एक कांसे की तलवार भी प्रतीक के तौर पर लगायी गयी है.

इसे भी पढ़िए-23 अप्रैल को मनाई जाएगी बाबू वीर कुंवर सिंह जयंती

असम से लाए गए तिरंगा
बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल ने बताया कि तिरंगा महोत्सव के लिए तिरंगा असम से लाये गये हैं. स्थानीय बांस से झंडा को तैयार किया गया है.

1.50 लाख से अधिक लोगों को गेट पर मिलेगा तिरंगा
आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत आयोजित हो रहे इस समारोह को रिकॉर्ड करने के लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के 1400 वोलेंटियरों की टीम जगदीशपुर में कैंप कर रही है. व्यवस्था इस तरह हो रही है कि मैदान में प्रवेश करने वाले हर व्यक्ति का डेटा रिकॉर्ड हो जाये. इसके लिए 50 एंट्री गेट तैयार किये गये हैं. हर गेट पर आयोजन समिति और गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के प्रतिनिधि प्रवेश करने वाले व्यक्ति को तिरंगा झंडा के साथ एक बैंड प्रदान करेंगे. हर गेट से करीब तीन हजार व्यक्तियों का प्रवेश सुनिश्चित होगा.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

बिहार में 19 जिलों के भू-अर्जन पदाधिकारी बदले गए.. जानिए कहां किनका तबादला

बिहार सरकार ने 19 जिलों के भू-अर्जन पदाधिकारी का तबादला कर दिया है। जिसमें नालंदा,जहानाबाद…