थानाध्यक्ष और दो पुलिसवाले रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार.. बालू माफियाओं से सेटिंग का खेल

0

बिहार में घूसखोर पुलिसवालों के खिलाफ लगातार कार्रवाई हो रही है । इसके बावजूद पुलिसवाले घूस लेने से बाज नहीं आ रहे हैं। विजिलेंस की टीम ने ऐसे ही तीन पुलिसवालों को घूस लेते रंगे हाथ पकड़ा है । जिसमें एक खुद थानाध्यक्ष है। जबकि दो सिपाही हैं। ये पूरा मामला बालू माफियाओं के साथ सेटिंग का था

क्या है पूरा मामला
मामला राजधानी पटना की है। जहां के दीदारगंज थाना का थानाध्यक्ष और दो पुलिसवाले को निगरानी विभाग की टीम ने 60,000 रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है । निगरानी विभाग की टीम ने दीदारगंज थाना के एसएचओ राजेश कुमार को गिरफ्तार किया है. साथ ही दो सिपाही विवेक कुमार और वैदिक को भी अरेस्ट किया है.

इसे भी पढ़िए-वरमाला स्टेज पर दूल्हे के दोस्तों का कब्जा, तो गोद में बैठ गई दुल्हन

बालू माफिया से सेटिंग का खेल
बताया जा रहा है कि ये पूरा मामला बालू माफियाओं से अवैध वसूली का है. निगरानी विभाग की टीम ने दीदारगंज थानाध्यक्ष राजेश कुमार को थाने से ही उठाया है. जबकि सिपाही विवेक कुमार और वैदिक को टोल प्लाजा के पास स्थित पुलिस चौकी से दबोचने की बात सामने आ रही है. सूत्र बताते हैं की ये सभी बालू माफियाओं के संपर्क में थे और उनसे पैसे की मोटी रकम वसूलते थे. बहरहाल विजिलेंस की टीम इन सब से कड़ाई से पूछताछ कर रही है. निगरानी विभाग की टीम इन्हें किसी गुप्त स्थान पर लेकर गई है, जहां इनसे सवाल-जवाब किया जा रहा है.

इसे भी पढ़िए-CBSE ने बताया 12वीं के रिजल्ट का फॉर्मूला; जानिए फॉर्मूला और कब आएगा रिजल्ट

पुलिस महकमे में हड़कंप
दीदारगंज थाना के एसएचओ और सिपाही की गिरफ्तारी के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। छापेमारी करने गई निगरानी की टीम में डीएसपी समीर चंद्र झा, डीएसपी अरुणोदय पांडे, डीएसपी सुरेंद्र कुमार महुवार, इंस्पेक्टर संजय कुमार चतुर्वेदी, इंस्पेक्टर सत्येंद्र राम, इंस्पेक्टर सुशील यादव सहित टीम में ऋषिकेश सिंह अविनाश झा, शशिकांत आदि शामिल थे।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In पुलिस प्रशासन

Leave a Reply

Check Also

चपरासी से TTE में हुआ प्रमोशन तो बन गया ‘नरपिचाश’… जानिए पूरी वारदात

नालंदा जिला में महज एक शख्स महज कुछ पैसे के लिए नरपिचाश बन गया। जिसके साथ सात जन्मों तक सा…