झारखंड पुलिस को चकमा देकर नालंदा का धर्मवीर फरार.. 21 लाख 50 हजार रुपए बरामद..

0

नालंदा के रहने वाले धर्मवीर को गिरफ्तार करने के लिए झारखंड पुलिस पिछले पांच दिनों से एड़ी चोटी का दम लगा रखी थी. बताया जा रहा है कि नालंदा पुलिस के सहयोग से झारखंड पुलिस ने धर्मवीर को धर दबोचा और उससे पूछताछ भी की. लेकिन बाद में चकमा देकर वो फरार हो गया. हालांकि झारखंड पुलिस 21 लाख 50 हजार रुपए जब्त करने में कामयाब रही. आपको पूरा मामला बताएं. उससे पहले ये जान लीजिए की आखिर कौन है धर्मवीर कुमार

कौन है धर्मवीर
धर्मवीर कुमार नालंदा जिला के अस्थावां प्रखंड के जियर गांव का रहने वाला है. धर्मवीर पर झारखंड में 24 लाख 26 हजार रुपए गबन का आरोप है. धर्मवीर की तलाश में सिमडेगा पुलिस नालंदा में थी.

इसे भी पढ़िए-रिपब्लिक डे परेड में राजपथ पर बिहार का बेटा ब्रह्मोस को करेगा लीड.. जानिए कौन हैं..

कोहरा का उठाया फायदा
सिमडेगा के पुलिस कप्तान डॉ. शम्स तब्रेज के मुताबिक धर्मवीर के खिलाफ शिकायत दर्ज होने के बाद उसके सभी ठिकानों पर छापेमारी की गई. बताया जा रहा है कि एक टीम नालंदा के जियर गांव पहुंची. जहां उसे गिरफ्तार कर लिया गया. उसकी निशानदेही पर 21 लाख 50 हजार रुपए जब्त कर लिए गए. लेकिन बाद में वो कोहरा का फायदा उठाकर फरार हो गया.

क्या है पूरा मामला
मामला झारखंड के सिमडेगा की है. जहां शिवालिया कंस्ट्रक्शन कंपनी से 24 लाख 26 हजार रुपए गबन का मामला सामने आया था. कंपनी के मालिक विकास कुमार हरियाणा के रहने वाले हैं. उनके मुताबिक नालंदा के रहने वाले धर्मवीर कुमार काफी दिनों से कंपनी में कैशियर थे. रुपये के लेन- देन उसी के जिम्मे था. इसी बीच काफी रुपये देखकर उसकी नियत बदल गयी. धर्मवीर 24 लाख 26 हजार रुपये का गबन कर फरार हो गया. मामले को लेकर 19 जनवरी को सिमडेगा थाना में कंपनी की ओर से धर्मवीर कुमार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

नालंदा का स्कूल संचालक निकला दरिंदा.. स्कूल में युवक को जिंदा जलाकर मार डाला

नालंदा जिला में एक खौफनाक वारदात सामने आई है । जहां स्कूल संचालक ने एक युवक को जिंदा जलाकर…