पीठा खाना पड़ा महंगा, दर्जन भर लोग पहुंच गए अस्पताल, जानिए पूरा मामला

0

नालंदा जिला में पीठा खाना लोगों को महंगा पड़ गया । पीठा खाने से दर्जनभर लोग बीमार हो गए। जिसमें 5 बच्चे भी शामिल हैं । सभी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

क्या है मामला
मामला नालंदा थाना क्षेत्र के मनियावां गांव की है । जहां करीब एक दर्जन लोग फूड प्वाइजनिंग के शिकार हो गए। बताया जा रहा है कि पीठा खाने के बाद लोगों की तबीयत खराब हो गई। जिसके बाद इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा ।

घर वालों का क्या है कहना
बताया जा रहा है कि विनोद मिस्त्री के घर पीठा बनाया गया था । पीठा घरवाले तो खाए ही थे। पड़ोसियों के घर भी बांटा गया था। लेकिन जब लोगों ने पीठा खाया तो उनकी तबीयत खराब हो गई और आनन फानन में बिहारशरीफ सदर अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा ।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में कई थानाप्रभारी बदले गए.. जानिए किन्हें बनाया गया कहां का थानाध्यक्ष ?

कौन कौन हुए बीमार
बीमार लोगों में विष्णु यादव, बिंदु देवी,शोभा देवी, हंस कुमार, स्वीटी कुमारी, शिवम कुमार, राहुल कुमार, राजा कुमार, सूरज कुमार सहित विक्टोरिया कुमारी शामिल है। फिलहाल सभी का इलाज सदर अस्पताल बिहारशरीफ में किया जा रहा है।

इसे भी पढ़िए-शादी का भोज खाना पड़ा महंगा,दर्जनों बीमार.. बारात के बदले अस्पताल पहुंचे

बिहार का मोमोज है पीठा
लिट्टी चोखा की तरह पीठा भी बिहार के लोगों का लजीज खाना होता है । सर्दी के दिनों में हर किसी के घर में बनाया जाता है । पीठा एक तरह से बिहार का मोमोज है। ये सामान्यतया पूस के महीने में बनाया है । पूस पीठा खाने की परंपरा सदियों से चलती आ रही है । कई लोग मीठा भरके तो कुछ लोग खोया भरके तो कोई नमकीन चोखा भरके पीठा बनाते हैं । इसे बनाने के लिए चावल के आटे की जरूरत होती है । जिसकी लोई तैयार की जाती है । फिर उसे भरकर बनाया जाता है ।

 

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

बिहार में इंटर एग्जाम से आधे घंटे पहले मैथ्स का पेपर लीक ?.. जानिए कहां से लीक हुआ पेपर

बिहार में इंटर परीक्षा से पहले प्रश्न पत्र लीक होने की ख़बर आ रही है। आज पहले दिन मैथ्स की…