मुकेश सहनी ने अमित शाह से लिया पंगा.. अब जाएगी मंत्री की कुर्सी !

0

होली के मौके पर बीजेपी ने अपने सहयोगी मुकेश सहनी को बड़ा झटका दिया है। मुकेश सहनी के मंत्री की कुर्सी भी जाने वाली है। क्योंकि बीजेपी ने मुजफ्फरपुर की बोचहां सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए अपने उम्मीदवार की घोषणा कर दी है।

बीजेपी ने घोषित किया उम्मीदवार
बोचहां सीट पर उपचुनाव को लेकर बीजेपी ने प्रत्याशी का ऐलान कर दिया है। बीजेपी ने बेबी कुमारी को बोचहां से उम्मीदवार बनाया है। वो बोचहां से विधायक रह चुकी हैं। वे क्षेत्र में काफी लोकप्रिय भी हैं। विधायक नहीं रहने के दौरान भी उन्होंने क्षेत्र में काफी सक्रियता दिखाई है। 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में बोचहां सीट वीआईपी के पास चली गई थी। इस वजह से वह चुनाव नहीं लड़ पाई थीं। ऐसे में अब उनका सपना पूरा हो गया है।

वीआईपी की सीट थी
मुजफ्फरपुर की बोचहां विधानसभा सीट से वीआईपी पार्टी के मुसाफिर पासवान विधायक थे। लंबी बीमारी के बाद पिछले साल नवंबर में उनका निधन दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में हो गया था। उनके निधन से खाली हुई सीट पर बीजेपी ने अपना उम्मीदवार उतार दिया है। सहनी भी इस सीट पर अपनी दावेदारी छोड़ने को तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा था कि मुसाफिर पासवान के परिवार के सदस्य को अपना उम्मीदवार बनाने की बात कही थी। माना जा रहा है कि वे मुसाफिर पासवान के बेटे अमर पासवान को चुनावी मैदान में उतार सकते हैं। उन्होंने बीजेपी का समर्थन मिलने की संभावना जाहिर की थी।

अब मंत्री पद पर भी संकट
बोचहां सीट पर बीजेपी की ओर से उम्मीदवार देने के बाद अब खतरा मुकेश सहनी की मंत्री की कुर्सी पर भी है. मुकेश सहनी पिछला विधानसभा चुनाव तक हार गये थे, लेकिन बीजेपी ने उन्हें विधान परिषद का सदस्य बना कर मंत्री बनवाया था. लेकिन एक दो महीने में मुकेश सहनी की विधान परिषद की सदस्यता ख़त्म होने वाली है. बीजेपी विधायक का कहना है कि पिछले दफे सहनी को विधान परिषद बनाया था. अब उन्हें विधान परिषद भेजने का सवाल ही नहीं उठता. ऐसे में एक दो महीने में उनकी मंत्री की कुर्सी भी जायेगी.

इसे भी पढ़िए-बिहार में बाढ़ समेत 4 और नए जिले बनेगें.. जानिए कहां कहां ?

मुकेश सहनी ने जताया ऐतराज
मुकेश सहनी ने ट्वीट कर कहा, ‘होली के शुभ अवसर पर सहयोगी दल द्वारा दिए गए तोहफे के लिए धन्यवाद। उनका यह निर्णय दर्शाता है की हम निषाद समाज एवं पूरे अतिपिछड़े समाज के हक एवं अधिकार की लड़ाई को सही दिशा में लड़ रहे है। यह हक और अधिकार की लड़ाई में खलल डालने का प्रयास है। हमारा संघर्ष जारी रहेगा।’

हम ने उठाए सवाल
बीजेपी के इस फैसले पर जीतन राम मांझी की पार्टी हम ने सवाल उठाया है. पार्टी प्रवक्ता डॉ दानिश रिजवान ने कहा है कि बीजेपी ने बोचहां से उम्मीदवार उतार कर परंपराओं की अनदेखी की है. बोचहां सीट VIP की थी और उसी की होनी चाहिए थी.

मुकेश सहनी के बीजेपी नाराज
दरअसल, मुकेश सहनी के हालिया गतिवधियों से बीजेपी नाराज है । उत्तर प्रदेश में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी को हराने की मुहिम छेड़ने वाले मुकेश सहनी को अब भारतीय जनता पार्टी ने हैसियत बताना शुरू कर दी है.

एनडीए से हो सकती है विदाई
दरअसल, मुकेश सहनी ने तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनने का ऑफर दिया था। मुकेश सहनी ने कहा था कि वो उनकी पार्टी का समर्थन करने के लिए तैयार है लेकिन ढाई ढ़ाई साल के फॉर्मूले के तहत। लेकिन मुकेश सहनी को शायद मालूम ही नहीं है कि बीजेपी,जेडीयू नहीं है। बीजेपी कैडर आधारित पार्टी है । जिसकी रूपरेखा अमित शाह जैसे चाणक्य बनाते हैं। ऐसे में संभव है कि मुकेश सहनी की एनडीए से विदाई हो जाए। क्योंकि उनकी कार्यशैली से बीजेपी लगातार नाराज है ।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In राजनीति

Leave a Reply

Check Also

बिहार में इंटर एग्जाम से आधे घंटे पहले मैथ्स का पेपर लीक ?.. जानिए कहां से लीक हुआ पेपर

बिहार में इंटर परीक्षा से पहले प्रश्न पत्र लीक होने की ख़बर आ रही है। आज पहले दिन मैथ्स की…