बिहार में बिछेगी तीन और नई रेललाइन.. नालंदा से बोधगया,नवादा, जहानाबाद को जोड़ने की योजना

0
New Rail Line Project in Bihar

बिहारवासियों के लिए बहुत अच्छी खबर है। भारतीय रेलवे ने बिहार में तीन और नई रेललाइनों को बिछाने का फैसला किया है। ताकि सूबे के चार जिलों के अलग-अलग शहरों को रेललाइन से जोड़ा जा सके। इसके तहत नालंदा जिला को रेलवे लाइन के जरिए बोधगया,नवादा और जहानाबाद से जोड़ने की योजना है । यानि यूं कहें तो मगध में रेल का जाल बिछाने की योजना है

नालंदा में तीन नई रेललाइनें बिछेंगी
नालंदा जिला में तीन और नई रेललाइनें बिछायी जाएंगी। इसके लिए भारतीय रेल सर्वे करा रहा है। बताया जा रहा है कि 60 प्रतिशत से ज्यादा सर्वे का काम पूरा भी हो चुका है । इन तीन योजनाओं के जरिए बुद्ध, जैन सर्किट यानि पावापुरी,बोधगया और जहानाबाद को सीधी रेलवे लाइन से जोड़ा जाएगा।

इसे भी पढ़िए-बिहार में बनेगा 445 किलोमीटर लंबा अश्वगंधा कॉरिडोर.. जानिए कहां से कहां तक बनेगा

इस्लामपुर-मानपुर( बोधगया) रेललाइन
नालंदा में जो तीन नई रेलवे लाइन बिछाई जाएंगी उसमें एक है नालंदा का इस्लामपुर से गया के मानपुर को जोड़ने की योजना। इसके जरिए बोधगया तक रेलवे लाइन बिछाई जाएगी। करीब 42 किलोमीटर लंबी इस्लामपुर-मानपुर (बोधगया) रेललाइन को बिछाने में करीब 788 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

इसे भी पढ़िए-जवान बने रहने के लिए क्या-क्या खाता था आसाराम; जानिए

इस्लामपुर-मानपुर रुट पर स्टेशन कहां कहां
इस्लामपुर-मानपुर रेल रुट पर आठ स्टेशन और चार हॉल्ट बनाने की योजना है। इसके तहत इस्लामपुर, मुसौली, जमुआवां, नौडीहा, खिजरसराय, मकसुदपुर, बरेव और मानपुर में रेलवे स्टेशन बनाने की योजना है । ताकि ऐसे जगहों को रेलवे लाइन से जोड़ा जाए जहां तक अभी तक सड़कों का जाल नहीं बुना गया है ।

इस्लामपुर-मानपुर रुट पर 15 अंडर ब्रिज बनेंगे
इस्लामपुर मानपुर रुट पर एक भी ROB(रोड ओवर ब्रिज) नहीं बनाया जाएगा। लेकिन,15 रोड अंडर ब्रिज यानि RUB बनाने की योजना है । जो परसुराय-बेरथू, मुसौली-सैदलपुर,खुदागंज-हुलासगंज,नई बाजार-हथियावां,खेरौरी- कंढौल,बिजोपुर-सरबहदा,रसलपुर- मोहम्मदपुर,ललितपुर-रौनिया,टोंसा-खिजरसराय,मकसूदपुर-गोसाईंमठ,खेनरपुरा-खैरा, काट रोड, मानपुर-सरबहदा, मानपुर-सरैया के बीच आरयूबी बनाने की योजना प्रस्तावित है।

इसे भी पढ़िए-नालंदा जिला में बनेगा एक और फोरलेन और बाईपास.. जानिए कहां से कहां तक

बिहारशरीफ-नवादा रेललाइन
दूसरी रेललाइन नालंदा और नवादा जिला को जोड़ेगी। इसके लिए बिहारशरीफ के पावापुरी रोड से नवादा के लिए रेलवे लाइन बिछाई जाएगी। करीब 37 किलोमीटर लंबे इस रेलरुट के निर्माण पर 107 करोड़ 58 लाख 70 हजार रुपये खर्च किए जाएंगे।

इसे भी पढ़िए-बिहार में एक और फोरलेन को मंजूरी,जानिए किस-किस गांव की जमीन का अधिग्रहण होगा

बिहारशरीफ-नवादा रुट पर 5 स्टेशन
वैसे तो बिहारशरीफ और नवादा सड़क मार्ग से जुड़ा है। लेकिन जैन धर्मानुयायियों की लंबे समय से बिहारशरीफ को नवादा से रेलमार्ग के द्वारा जोड़ने की मांग रही है। जिसके तहत अब पावापुरी होते हुए बिहारशरीफ को नवादा से जोड़ा जोड़ा जाएगा। इस रेलखंड पर पांच स्टेशन और एक हॉल्ट बनाने की सिफारिश की गई है । इस रुट पर बिहारशरीफ,प्रभु बिगहा, आदमपुर,समाई और नवादा में स्टेशन बनाने का प्रस्ताव है

इसे भी पढ़िए-बिहार में बनेगा पहला एक्सप्रेस-वे, कहां-कहां गुजरेगा 271 किमी लंबा Expressway.. जानिए

बिहारशरीफ को जहानाबाद से जोड़ने की योजना
नालंदा जिला को रेलवे लाइन के जरिए जहानाबाद से भी जोड़ने की योजना है । इसके तहत बिहारशरीफ से जहानाबाद तक नई रेल लाइन बिछाने की योजना है । इस रेलखंड पर सर्वे का काम लगभग पूरा कर लिया गया है। ये नई रेललाइन बिहारशरीफ से एकंगरसराय होते हुए जहानाबाद में पटना-गया रेलखंड से मिलेगी।

मगध में रेललाइनों का जाल
अभी नालंदा जिला में तीन रेलखंडों पर ट्रेनें चल रही हैं। इनमें बख्तियारपुर-तिलैया, बिहारशरीफ-दनियावां और फतुहा-इस्लामपुर रेलखंड शामिल हैं। बिहारशरीफ-बरबीघा-शेखपुरा रेलखंड पर निर्माण का काम अंतिम चरण में चल रहा है। अब तीन नई रेलवे लाइन पर सर्वे का काम चल रहा है । ऐसे में नालंदा जिला सात रेललाइनों का जाल बिछ जाएगा और पूरा मगध रेललाइनों से आपस में जुड़ जाएगा। जिससे विकास की गति तेज होगी ।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In बढ़ता बिहार

Leave a Reply

Check Also

चपरासी से TTE में हुआ प्रमोशन तो बन गया ‘नरपिचाश’… जानिए पूरी वारदात

नालंदा जिला में महज एक शख्स महज कुछ पैसे के लिए नरपिचाश बन गया। जिसके साथ सात जन्मों तक सा…