बिहार के बेटे और CM नीतीश के काफी करीबी चंचल कुमार को PM मोदी ने सौंपी बड़ी जिम्मेदारी..

0

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफी करीबी रहे सीनियर IAS अफसर चंचल कुमार को केंद्र की मोदी सरकार ने बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। चंचल कुमार को भारत सरकार में सचिव बनाया गया है ।

उड्डयन मंत्रालय संभालेंगे चंचल
चंचल कुमार बिहार कैडर के 1992 बैच के IAS हैं। उन्हें केंद्रीय नागरिक उड्डयन सचिव बनाया गया है. इस बारे में केंद्र सरकार ने अधिसूचना जारी कर दी है।

चंचल से बिहार को उम्मीद
बिहार के बेटे चंचल कुमार को इतनी बड़ी जिम्मेदारी मिलने से विमानन क्षेत्र में बिहार में विकास की उम्मीदें बढ़ गई है। माना जा रहा है कि चंचल कुमार के उड्डयन सचिव बनने से बिहार में एयरपोर्ट में तेजी से विकास होगा। खासकर दरभंगा और पूर्णिया एयरपोर्ट के विकास को लेकर सबकी नजर अब चंचल कुमार टिकी होगी।

इसे भी पढ़िए-मांझी ने अमित शाह से कर ली बड़ी डील.. देखते रह गए CM नीतीश !

बिहार के बेटे हैं चंचल कुमार
चंचल कुमार बिहार के मधुबनी जिले के रहने वाले हैं. वे मौजूदा सचिव राजीव बंसल के 31 अगस्त के रिटायर होने पर उनका स्थान होंगे. चंचल कुमार 1992 बैच के बिहार कैडर के भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के अधिकारी हैं. वे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रधान सचिव के रूप में काम कर चुके हैं । उन्होंने आईआईटी कानपुर से कंप्यूटर साइंस में एमटेक की डिग्री ली थी। इसके बाद ड्यूक यूनिवर्सिटी से इंटरनेशनल डेवलपमेंट पॉलिसी और एप्लाइड इकोनॉमिक्स में मास्टर डिग्री हासिल की थी।

इसे भी पढ़िए-बिहार में नीतीश कैबिनेट का होगा विस्तार.. जानिए कौन कौन बनेंगे मंत्री

बिहार में चलता था सिक्का
केंद्र में आने से पहले चंचल कुमार का बिहार में सिक्का चलता था। उनकी गिनती नीतीश कुमार के सबसे करीबी अफसर में होती है। वे सीएम नीतीश के प्रधान सचिव रह चुके थे। कहा जाता है कि बिहार में नीतीश सरकार की कई नीतियों को लागू करने के पीछे चंचल का ही माइंड था। बिहार में चंचल कुमार की बड़ा धाक का अंदाजा आप ऐसे लगा सकते हैं कि मंत्री भी उनसे बचकर रहना चाहते थे. एक बार तत्कालीन मंत्री महेश्वर हजारी से इनकी किसी बात को लेकर मतभेद हो गई थी. तभी वे उनके विभाग के ही सचिव थे. मतभेद का नतीजा ये हुआ कि हजारी को दूसरा विभाग सौंप दिया गया था.

केंद्र में आ गए थे
दरअसल, चंचल कुमार पिछले साल ही सेंट्रल डेप्युटेशन पर दिल्ली आ गए थे। उन्हें सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के राष्ट्रीय राजमार्ग और बुनियादी ढांचा विकास निगम लिमिटेड का मैनेजिंग डायरेक्टर बनाया गया था ।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

योगी राज में मारा गया एक और माफिया.. कई जिलों में धारा 144 लगाई गई

कहा जाता है कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ माफिया के लिए काल हैं.. उनके राज में कोई…