बिहार के प्राथमिक स्कूलों में निकली बंपर वैकेंसी.. 31 हजार रुपए मिलेगा वेतन

0

बिहार में प्राथमिक स्कूलों में बंपर वैकेंसी निकली है। ये वैकेंसी बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा निकाली गई है। जिसमें प्राथमिक विद्यालयों में 40,506 पदों पर प्रधान शिक्षक की भर्ती होगी।

किस श्रेणी के लिए कितने पद
सामान्य वर्ग के लिए 16204 पद हैं। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए 4048, एससी के लिए 6477, एसटी के लिए 418, ईबीसी के लिए 7290, बीसी के लिए 4861 एवं बीसी महिला के लिए 1210 पद आरक्षित हैं। दिव्यांग के लिए भी चार प्रतिशत सीट आरक्षित है। इसमें दृष्टि बाधित के लिए 421, मूक बधिर के लिए 410, अस्थि दिव्यांग के लिए 397 एवं मनोविकार-बहुदिव्यांग के लिए 392 पद आरक्षित है।

कब तक भरे जाएंगे फॉर्म
अभ्यर्थियों को प्रधान शिक्षक पद के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा । आवेदन भरने की अंतिम तिथि 22 अप्रैल 2022 है। इससे पहले आयोग ने राज्य के उच्‍च माध्‍यमिक विद्यालयों में हेडमास्टर यानी प्रधानाध्‍यापक के 6421 पदों पर भर्ती का नोटिफिकेशन जारी किया था। इच्छुक और योग्य उम्मीदवार bpsc.bih.nic.in पर पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

शैक्षणिक योग्यता
इस पद पर आवेदन करने वालों की शैक्षणिक योग्यता मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ स्नातक उत्तीर्ण रखी गई है। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अत्यंत पिछड़ा वर्ग, पिछड़ा वर्ग, महिला और आर्थिक रुप से कमजोर वर्ग के लिए न्यूनतम निर्धारित अंक में 0.5 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।

इन डिग्री की भी मान्यता
मौलाना मजहरुल हक अरबी एवं फारसी विश्वविद्यालय पटना, बिहार राज्य मदरसा शिक्षा बोर्ड द्वारा दी जाने वाली आलिम की डिग्री और कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय द्वारा शास्त्रीय की डिग्री को स्नातक के समतुल्य माना जाएगा।

अन्य योग्यता
मान्यता प्राप्त संस्थान से डिएलएड/ बीटी/ बी.एड./ बीएससी एड/ बीएल एड उत्तीर्ण हों। 2012 या उसके बाद नियुक्त शिक्षक के लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा में उत्तीर्ण हों और 2012 से पहले नियुक्त शिक्षकों के लिए दक्षता परीक्षा उत्तीर्ण होना आवश्यक होगा।

दो घंटे की लिखित परीक्षा होगी
चयन के लिए लिखित परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। लिखित परीक्षा 150 अंकों की होगी। यह वस्तुनिष्ठ और बहुविकल्पीय होगी। इसमें समान्य अध्ययन 75 अंक और डीएलएड विषय 75 अंक के होंगे। प्रत्येक प्रश्न एक अंक का होगा और प्रत्येक गलत जवाब के लिए 0.25 अंक कटेगा। परीक्षा की अवधि दो घंटे होगी।

इसे भी पढ़िए-जेल में बंद कैदी ने पास की IIT की परीक्षा, देशभर में 54वां स्थान

न्यूनतम कट ऑफ कितना
लिखित परीक्षा में शामिल होने वाले सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों को 40 प्रतिशत, बीसी के लिए 36.5 प्रतिशत, ईबीसी के लिए 34 प्रतिशत एवं एससी-एसटी, महिला तथा दिव्यांग के लिए 32 प्रतिशत न्यूनतम अंक होना जरूरी है।

इसे भी पढ़िए-पटना हाईकोर्ट में 12वीं पास के लिए बंपर वैकेंसी, 81 हजार तक सैलरी

आवेदन शुल्क
सामान्य वर्ग – 750 रुपये
बिहार के एससी व एसटी व सभी वर्गों की महिला अभ्यर्थी – 200 रुपये
दिव्यांग – 200 रुपये

8 वर्ष का अनुभव चाहिए
पंचायती राज संस्थाओं और नगर निकाय संस्था के अंतर्गत पंचायत प्रारंभिक शिक्षक / नगर प्रारंभिक शिक्षक के मूल कोटि के पद पर न्यूनतम आठ वर्ष की लगातार सेवा की योग्यता चाहिए। पंचायती राज संस्था और नगर निकाय संस्था अंतर्गत स्नातक शिक्षक जिनकी सेवा संपुष्ट हो, योग्य होंगे।

उम्र सीमा 
बिहार सरकार पंचायती राज संस्थान और नगर निकाय संस्थान के अंतर्गत कार्यरत शिक्षक के लिए न्यूनतम व अधिकतम आयु सीमा अलग से निर्धारित नहीं की जाएगी, परंतु अधिकतम आयु सीमा 1-08-2021 तक सेवा निवृति की उम्र जो 60 वर्ष निर्धारित है उससे अधिक नहीं होनी चाहिए।

वेतनमान
इसके लिए वेतनमान प्रारंभिक वेतन 30,500 और राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर किए जाने वाले वेतन पुनरीक्षण के आलोक में परिवर्तनीय होंगे।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In जॉब एंड एजुकेशन

Leave a Reply

Check Also

नीतीश कुमार के दुश्मन नंबर वन को अमित शाह ने दिया Z कैटगरी की सुरक्षा.. जानिए पूरा मामला

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दुश्मन नंबर वन को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बड़ा…