Home रोचक खबरें गलती से BSP की जगह BJP को डाला वोट, पछतावा होने पर काट दी अंगुली

गलती से BSP की जगह BJP को डाला वोट, पछतावा होने पर काट दी अंगुली

0

देश भर में लोकसभा का चुनाव हो रहा है. अब तक दो चरण के लिए मतदान हो चुके हैं. इस दौरान एक अजीबोगरीब वाक्या सामने आया है . दूसरे चरण के मतदान के दौरान एक वोटर ने गलती से मायावती की पार्टी बीएसपी को वोट देने के बजाय बीजेपी को दे दिया. वोट देने के बाद उसे अहसास हुआ कि उसने गलती की है. जिसके बाद उसने अपने उस उंगली को ही काट डाला. जिससे उसने ईवीएम का बटन दबाया था.

क्या है पूरा मामला
मामला उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर के शिकारपुर क्षेत्र की है. जहां के अब्दुल्लापुर हुलासन गांव के रहने वाले पवन कुमार वोट डालने बूथ पर गए. रिपोर्ट के मुताबिक 25 साल के पवन कुमार ने समाजवादी पार्टी-बीएसपी और आरएलडी गठबंधन के उम्मीदवार योगेश वर्मा को वोट देने गए थे. लेकिन गलती से उन्‍होंने बीजेपी उम्‍मीदवार भोला सिंह को वोट दे दिया. पवन अपनी गलती से इतना दुखी हो गए कि उन्‍होंने अपनी उंगली ही काट ली.

सोशल मीडिया पर जारी वीडियो
पवन सिंह की एक वीडियो भी वायरल हो रही है जिसमें उससे कोई पीछे से पूछ रहा है कि ऊंगली कैसे कटी तो पवन सिंह बता रहा है कि वो बीएसपी उम्मीदवार को वोट देने गया था लेकिन गलती से उससे बीजेपी का बटन दब गया जिसके बाद पछतावे में आकर उसने खुद की उंगली काट ली और ऐसा उसने किसी दवाब में आकर नहीं किया है. पवन सिंह वीडियो में कह रहा है कि उसने गलती से दोबारा बीजेपी को वोट देकर गलती की जिसकी सजा उसने खुद को दी है.

जातीय राजनीति का है परिणाम
दरअसल यूपी में ज्यादातर वोटिंग जातिय समीकरण के आधार पर होती है. ऐसे में एक दलित होने के नाते पवन कुमार यूपी का राजनीति में अहम भूमिका अदा करने वाली बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का समर्थक है और इस के आधार पर वह बसपा-सपा-आरएलडी के गठबंधन के तहत चुनाव लड़ने उतरे प्रत्याशी को वोट देना चाहता था. लेकिन उससे गलती से वोट भाजपा को चला गया और गुस्से में आकर पवन कुमार ने यह कदम उठा लिया. आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण का मतदान 23 अप्रैल को होना है.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In रोचक खबरें

Leave a Reply

Check Also

विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने लोजपा ( LJP) को दिया बड़ा झटका..

बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) का बिगुल बज चुका है. लेकिन सीट बंटवारे …