Home कोरोना अपडेट बिहारशरीफ के दो मोहल्ले पूरी तरह सील,कोरोना के 59 नए संदिग्ध मरीज मिलने से हड़कंप

बिहारशरीफ के दो मोहल्ले पूरी तरह सील,कोरोना के 59 नए संदिग्ध मरीज मिलने से हड़कंप

0

नालंदा के प्रशासनिक महकमे में उस वक्त हड़कंप मच गया जब सोमवार को जिले में कोरोना के 59 नए संदिग्ध मरीज मिले हैं. सभी को आइशोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है. साथ ही बिहारशरीफ के दो मोहल्लों को सील कर दिया है ।

बिहारशरीफ के दो मोहल्ले सील
बिहारशरीफ के शेखाना मोहल्ले में कोरोना के 14 संदिग्ध मरीज मिले हैं. सभी को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है. वहीं जिला प्रशासन ने त्वरित कार्रवाई करते हुए शेखाना और अंबेर मोहल्ले को सोमवार की सुबह 10 बजे से ही पूरी तरह सील कर दिया गया। वहां न तो कोई बाहरी जा सकता है न तो वहां का कोई बाहर आ सकता है। हालांकि, इस दौरान आवश्यक सेवाएं वहां जारी रहेंगी।

इसे भी पढ़िए-नालंदा के युवक की गया में हत्या, हॉर्रर किलिंग की आशंका

सिलाव के कड़ाह गांव में मिले संदिग्ध
सिलाव के कड़ाह गांव से एक ही परिवार के 9 समेत 56 लोगों को लाया गया। वहीं पावापुरी में तीन पहले से भर्ती थे। सोमवार को 4 नए संदिग्ध भर्ती हुए।

इसे भी पढ़िए-बेहद शर्मनाक: बिहार में कोरोना संकट के बीच 234 डॉक्टर ड्यूटी से गायब

हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार
नालंदा के सिविल सर्जन डॉ. राम सिंह ने कहा कि हम हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। सुरक्षा मानकों में कहीं से कोई चूक न होई इसका ख्याल रखा जा रहा है। उनके सैंपल जांच के लिए पटना भेजे जाएंगे। वहीं पावापुरी मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक डॉ. ज्ञान भूषण ने कहा कि सभी सात संदिग्धों के सैंपल की जांच के लिए पटना भेजे गये हैं।

इसे भी पढ़िए-ब्रेकिंग न्यूज़: बिहारशरीफ के बड़ी पहाड़ी पर हंगामा, मौके पर पहुंचे SP

पुलिस प्रशासन की पैनी नजर
सूत्रों की मानें तो जिन स्थानों से नये संदिग्ध पकड़े गये हैं, उन स्थानों की टोह पहले से ही ली जा रही थी। दिल्ली से जमाती के इधर-उधर जाने के बाद से ही ऐसे इलाकों पर पैनी नजर रखी जा रही है। बाहर से आने वालों को पुलिस खोज-खोज कर आइसोलेशन वार्ड तक ला रही है। इसके पहले भी सोहसराय के एक मोहल्ले से युवक को पकड़ कर लाया गया था। उसके तीसरे दिन बाद ही एक और युवक को पुलिस ने दबोचा था। हालांकि, जांच में उनकी रिपोर्ट निगेटिव आने से प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने चैन की सांस ली थी। उसके चार दिन बाद फिर से पुलिस ने दर्जनों लोगों को इन मोहल्लों से ट्रेस किया है।

डीएम एसपी का सख्त निर्देश
वहीं, नालंदा के डीएम योगेंद्र सिंह और एसपी नीलेश कुमार का कहना है कि कोरोना से बचने का एकमात्र उपाय आइसोलेशन है. इसके लिए हर हाल में सोशल डिस्टेंसन का पालन करना होगा। हम घर में ही रहें, तभी खुद के साथ हमारा परिवार और समाज सुरक्षित और स्वस्थ्य रह सकेगा। उन्होंने आम लोगों से जारी निदेशों का पालन करने की अपील की है। साथ ही कहा है कि जिले में किसी भी सामान की कमी नहीं है। आवश्यक सेवाएं चलती रहेंगी।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In कोरोना अपडेट

Leave a Reply

Check Also

चुनाव प्रचार के दौरान उम्मीदवार को गोलियों से भून डाला.. जानिए पूरा मामला

बिहार विधानसभा चुनाव में खून खराबे का दौर शुरू हो गया है. चुनाव प्रचार के दौरान बदमाशों ने…