बिहार में बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा(Bihar BEd CET 2021) की तारीखों का ऐलान

0

बिहार में सरकारी और निजी बीएड कॉलेजों के लिए होने वाली संयुक्त प्रवेश परीक्षा (
Bihar BEd CET 2021) की नई तारीख घोषित कर दी गई है। इस बार परीक्षा में एक लाख 36 हजार 771 छात्र शामिल होंगे।

कब होगी परीक्षा
बिहार में बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा अब 11 अगस्त को होगी। इसके लिए परीक्षार्थी चार अगस्त से एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। ये जानकारी ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के राज्य नोडल अधिकारी प्रो. अशोक कुमार मेहता ने दी है।

इसे भी पढ़िए-जलेबी को लेकर IPS अधिकारी का दर्द आया सामने.. बीवी ने दी धमकी ..

तीन बार स्थगित हो चुकी है परीक्षा
कोरोना संक्रमण की वजह से ये परीक्षा पहले ही तीन बार परीक्षा स्थगित हो चुकी है। अब ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी ने चौथी बार परीक्षा की तारीख जारी की गई है। पहले ये परीक्षा 11 जुलाई को प्रस्तावित थी। लेकिन स्थगित कर दिया गया। इससे पहले 30 जून को होने वाली परीक्षा भी स्थगित कर दी गई थी।

35 हजार सीटों के लिए परीक्षा
बिहार में सरकारी और निजी कॉलेजों मे बीएड की 35 हजार सीटों के लिए परीक्षा का आयोजन किया जाएगा । जिसमें 1 लाख 36 हजार से ज्यादा अभ्यर्थी हिस्सा लेंगे । जिसमें 75,524 पुरुष अभ्यर्थी हैं जबकि 61,238 महिला और नौ ट्रांसजेंडर हैं।

इसे भी पढि़ए-सिन्धु घाटी सभ्यता की उत्पति के बारे में जानिए..

11 शहरों में होगी परीक्षा
बीएड की संयुक्त परीक्षा इस बार राज्यभर के 11 शहरों में आयोजित किए जाएंगे । इस बार दरभंगा, मधेपुरा, मुंगेर, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, पटना, गया, आरा, छपरा, पूर्णिया और हाजीपुर में सेंटर बनाया गया है। वहीं, बीएड परीक्षार्थियों की पहली पसंद पटना है। सबसे ज्यादा छात्रों ने पटना को ही परीक्षा केंद्र के रूप में चुना है।

LNU है नोडल यूनिवर्सिटी
दरअसल, बीएड 2021-23 के लिए दरभंगा की ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी को नोडल केंद्र बनाया गया है। राज्य के 332 बीएड कॉलेजों में दाखिले के लिए छात्रों के आवेदन आए हैं। इसके लिए 278 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। जहां परीक्षा का आयोजन किया जाएगा ।

अभ्यर्थियों को अग्रिम शुभकामनाएं
नालंदा लाइव अभ्यर्थियों को सफलता के लिए अग्रिम शुभकामनाएं देता है। साथ ही अपील करता है कि परीक्षा की आखिरी घड़ी में रिविजन जरूर कर लें। ताकि मानवीय भूल से बचा जा सके।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

चपरासी से TTE में हुआ प्रमोशन तो बन गया ‘नरपिचाश’… जानिए पूरी वारदात

नालंदा जिला में महज एक शख्स महज कुछ पैसे के लिए नरपिचाश बन गया। जिसके साथ सात जन्मों तक सा…