पुलिस कस्टडी में ट्रक मालिक की मौत..खलासी करता था बेटी से प्यार !

0

नालंदा में पुलिस कस्टडी में एक ट्रक मालिक की मौत हो गई है । ट्रक मालिक के परिवार वालों ने पुलिस पर संगीन आरोप लगाए हैं। उनका कहना है कि पुलिस की पिटाई की वजह से ट्रक मालिक भूरल यादव की मौत हुई है।

खलासी की हत्या का आरोप
ट्रक मालिक पर अपने ही खलासी की हत्या का आरोप है। दरअसल, 7 जनवरी को पावापुरी ओपी पुलिस ने पटना-रांची रोड किनारे चोरसुआ के पास झाड़ी से एक युवक का शव बरामद किया था। मृतक भुरल यादव के ट्रक का खलासी था। भुरल यादव मौत का कारण दुर्घटना बता रहा था। जबकि मृतक के शरीर पर बने जख्मों के निशान थे ।

इसे भी पढ़िए-प्रेमी ने पहले प्रेमिका की मांग भरी, फिर दोनों ने की खुदकुशी.. जानिए पूरा मामला

प्रेम प्रसंग का मामला सामने आया
मृतक खलासी का नाम छोटू कुमार है । वो झारखंड के बोकारो जिला के चास के वीर कुंवर सिंह कॉलोनी का रहने वाला था। खलासी छोटू के परिजनों ने भुरल यादव पर हत्या का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि भुरल यादव की बेटी के साथ छोटू कुमार यादव के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। जिसकी वजह से ट्रक मालिक ने खलासी की हत्या कर दी ।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में भूमाफियाओं ने बेच दी रेलवे की करोड़ों की जमीन.. जानिए पूरा मामला

पुलिस ने गिरफ्तार किया था
पावापुरी पुलिस ने खलासी की हत्या के आरोप में भुरल यादव को मोतिहारी से गिरफ्तार किया था । भुरल यादव आरा जिला के बिहिया थाना क्षेत्र का रहने वाला था । वो पिछले दो महीने से जेल में बंद था।

इसे भी पढ़िए-टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने खरीदी ये महंगी कार, कीमत होश उड़ा देंगी

पुलिस कस्टडी में चल रहा था इलाज
भुरल यादव की तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें पुलिस कस्टडी में इलाज के लिए बिहारशरीफ सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था । जहां सोमवार की सुबह उनकी मौत हो गई ।

इसे भी पढ़िए-नालंदावासियों के लिए खुशखबरी.. बनेंगे 8 चेकडैम.. जानिए कहां-कहां

परिवार का आरोप
मृतक ट्रक ड्राइवर के परिवार का आरोप है कि मोतिहारी से गिरफ्तारी के बाद पुलिस उन्हें लेकर नालन्दा लाई थी। उनका आरोप है कि पुलिस ने बेरहमी से पिटाई की थी । जिसकी वजह से पैर में लगा स्टील भी बाहर निकल गया था। जिसके बाद इलाज के लिए सदर अस्पताल के कैदी वार्ड में भर्ती कराया गया था।

डॉक्टरों का क्या है कहना
वहीं, इलाज कर रहे सदर अस्पताल के डॉक्टर ने बताया कि भुरल यादव डायबिटीज, दमा और ब्रोकाइटिस बीमारी से पीड़ित थे। जिसकी वजह से उनकी मौत हुई।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

नीतीश कुमार के दुश्मन नंबर वन को अमित शाह ने दिया Z कैटगरी की सुरक्षा.. जानिए पूरा मामला

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दुश्मन नंबर वन को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बड़ा…