Home अपराध न्याय के लिए सीएम नीतीश कुमार के आवास के बाहर आत्मदाह, Video देखिए

न्याय के लिए सीएम नीतीश कुमार के आवास के बाहर आत्मदाह, Video देखिए

0

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के सरकारी आवास के बाहर एक युवक ने खुद को आग लगा ली। हालांकि वहां मौजूद सुरक्षा कर्मियों (Security Forces) ने आग पर काबू पाते हुए युवक को बचा कर हिरासत में अस्‍पताल भेज दिया है। उसका एक हाथ जल गया है। युवक की पहचान अभिजीत शर्मा (Abhijit Sharma) के रूप में हुई है। जो हाजीपुर का रहनेवाला है. वो पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (PMCH) में अपनी मौसी की मौत की जांच के मामले को ठंडे बस्‍ते में डाल दिए जाने से दुखी था। आत्‍मदाह की कोशिश के दौरान वो लगातार रोते हुए कह रहा था कि उसे न्‍याय चाहिए।

मौसी की मौत से था परेशान
बताया जा रहा है कि करीब तीन महीने पहले पीएमसीएच में एक महिला की मौत डेंगू (Dengue) से हो गई थी। घटना के बाद मृतक के स्‍वजनों ने उसकी मौत के लिए इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया था। मौत के बाद जब हंगामा मचा तो मामले की जांच कर कार्रवाई का आश्वासन बिहार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री (Health Minister) मंगल पांडेय (Mangal Pandey) ने दिया था। इसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गई।

इंसाफ के लिए उठा लिया बड़ा कदम
महिला की मौत के बाद उसके स्‍वजन नाराज थे और काफी दिनों से इंसाफ की मांग कर रहे थे। बताया जाता है कि मृतक महिला अभिजीत की रिश्ते में मौसी लगती थी। जब कहीं इंसाफ नहीं मिला तो रविवार को अभिजीत सीधे मुख्‍यमंत्री आवास (CM House) के बाहर पहुंच गया। इसके पहले कि मुख्यमंत्री आवास के बाहर तैनात पुलिसकर्मी कुछ समझ पाते, उसने खुद को आग के हवाले कर लिया। आग लगने के बाद जबतक उसे बचाया जाता, उसका दायां हाथ बुरी तरह से जल गया।

सुरक्षा पर उठे सवाल
घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी का माहौल बन गया। जानकारी मिलने पर कई थानों की पुलिस पहुंच गई। युवक को हिरासत में लेकर एक निजी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। घटना ने मुख्‍यमंत्री आवास की सुरक्षा को लेकर भी सवाल खड़े किए हैं।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

चुनाव प्रचार के दौरान उम्मीदवार को गोलियों से भून डाला.. जानिए पूरा मामला

बिहार विधानसभा चुनाव में खून खराबे का दौर शुरू हो गया है. चुनाव प्रचार के दौरान बदमाशों ने…