लोगों ने दौड़ाकर हथियारबंद बैंक लुटरों को पकड़ा.. जानिए पूरा मामला

0

कहा जाता है कि जब पब्लिक अपने पर उतर आती है तो बड़े बड़ों को सरेंडर करा देती है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है । जहां लोगों बैंक लुटेरों को धर दबोचा है । लूट की वारदात को अंजाम देने के इरादे से कुछ बदमाश एसबीआई के ग्राहक सेवा केंद्र में घुसे थे। लेकिन लोगों ने डरने के बजाय हथियारबंद लुटेरों को दौड़कर धर दबोचा

क्या है पूरा मामला
एसबीआई के ग्राहक सेवा केन्द्र में कैशियर विक्की और को संचालक प्रभात कुमार बैठे थे। केन्द्र में पांच ग्राहक भी थे। इसी दौरान तीन युवक अंदर घुसे और घुसते हीं तीनों ने पिस्टल निकालते हुए पहले ग्राहकों को एक तरफ बैठा दिया।

बंधक बनाने की कोशिश की
एक बदमाश ग्राहकों और केन्द्र के मेन गेट की रखवाली करने लगा। दूसरा और तीसरा अपराधी कैशियर से रुपये निकालने और धमकाने में जुटा रहा। इसी दौरान सीएसपी संचालक का एक परिजन सीएसपी केन्द्र के बाहर से अंदर झांका तो अंदर का नजारा देखकर चौंक गया और भागते हुए सीएसपी के पीछे स्थित घर पर परिजनों को इस बारे में बता दिया।

शोर मचाने पर जुटे लोग
इसके बाद संचालक के परिजन डरे नहीं और शोर मचाते हुए सीएसपी पहुंचे। शोर सुनकर अपराधियों को घिरने का अंदाजा हो गया और बाहर की ओर भागे। अपराधियों को भागते देख सीएसपी के संचालक और कर्मचारी भी बाहर निकले और चिल्लाते हुए बदमाशों का पीछा शुरू कर दिया।

पीछा करने लगे लोग
सीएसपी केन्द्र से भागे तीन अपराधी आगे के रास्ते से दो अपराधी बाईं तरफ और एक अपराधी दाहिनी तरफ भागा। दोनों की तरफ लोग भाग रहे थे। लेकिन इसी दौरान एक तरफ भागे दो अपराधी गंडक नदी के किनारे झाड़ियों और केलवानी में छिपते हुए कुशवाहा आश्रम की तरफ भागने लगे।

सूचना मिलने पर पुलिस भी पहुंची
इसी बीच किसी ने पुलिस को भी सूचना दे दी। दिनदहाड़े लूट की घटना की सूचना पर नगर थाना पुलिस में हड़कंप मच गया और सभी पुलिस पदाधिकारियों को घटनास्थल की ओर कूच करने का निर्देश दिया गया।

लुटेरे को दबोचा
इस बीच सुमित कुमार नामक एक युवक अपने खेत में काम कर रहा था। चोर-चोर का हल्ला होने लगा तो एक को खेत से निकाल कर पकड़ लिया। अपराधी ने पिस्टल दिखाया तो छोड़ दिया। इसी दौरान स्थानीय मनोज सिंह स्कूटी से पहुंच गए और सुमित के साथ जाकर उसे दोबारा दबोच लिया। तब तक नगर थाना के एसआई सुनील कुमार भी पहुंच गए और लुटेरे को पकड़ लिया।

झाड़ी से दबोचा गया दूसरा लुटेरा
इसके बाद नगर थानाध्यक्ष सुबोध कुमार सिंह और सदर सर्किल इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार भी दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए। इस भागमदौड़ में एक और लुटेरे के झाड़ी में छिपे होने की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस ने सर्च अभियान चलाया। अरहर की खेत और जंगल के बीच सर्च अभियान के दौरान उसे भी पुलिस ने पकड़ लिया। संचालक ने सीएसपी से लगभग 77 हजार रुपये लूट की बात बताई है। पुलिसल अब भाग निकले तीसरे लुटेरे की तलाश में लगी है।

कहां का है मामला
मामला वैशाली जिले के नगर थाना क्षेत्र के कोनहारा घाट स्थित नेपाली छावनी मंदिर के पास स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के ग्राहक सेवा केन्द्र की है ।

लगातार दूसरे दिन दिखाई हिम्मत
वैशाली जिले के लोगों ने लगातार दूसरे दिन हिम्मत दिखाई है । इससे पहले गुरुवार को महनार मदन चौक और बालक मध्य विद्यालय के बीच हाजीपुर-महनार मुख्य मार्ग पर स्थित मंगलसूत्र ज्वेलरी शॉप में घुसे हथियारबंद लुटेरे को दुकानदार ने खदेड़ लिया था।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

बिहारशरीफ के हिरण्य पर्वत पर युवक का मर्डर.. जानिए पूरा मामला

बिहारशरीफ के हिरण्य पर्वत पर एक युवक की बदमाशों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी। मृतक के परिजनों …