नालंदा में बनेगा पहला राष्ट्रीय इनडोर स्टेडियम.. जानिए कहां और क्या होगी खासियत

0

नालंदा वासियों के लिए बड़ी खुशखबरी है। नालंदा जिला को बड़ा तोहफा मिला है । जिले में पहला पहला राष्ट्रीय इनडोर स्टेडियम के निर्माण को मंजूरी मिल गई है । इस इनडोर स्टेडियम का निर्माण बिहार राज्य आधारभूत संरचना करेगा।

217 लाख रुपए खर्च होंगे
नालंदा में तीन तल्लों का अत्याधुनिक इनडोर स्टेडियम का निर्माण होगा जो ग्राउंड प्लस टू होगा। खास बात ये है कि इनडोर स्टेडियम पूरी तरह से वातानुकूलित होगा। साथ ही आने-जाने के लिए लिफ्ट की भी व्यवस्था रहेगी। इसके निर्माण पर 217 लाख रुपए खर्च होंगे।

कहां बनेगा इनडोर स्टेडियम
इस इनडोर स्टेडियम का निर्माण बिहारशरीफ के नालंदा कॉलेज में किया जाएगा। नालंदा कॉलेज में मौजूदा एमबीए भवन और एक्जामिनेशन हॉल के बीच करीब 40 डिसमिल जमीन पर इसका निर्माण किया जाएगा। यहां 100 फीट चौड़ी 185 फीट लंबी जमीन पर पार्किंग से लेकर लिफ्ट, टेबल टेनिस कोर्ट, कुश्ती रिंग, शौचालय, पानी सभी की व्यवस्था रहेगी। इस तरह का अत्याधुनिक इनडोर स्टेडियम मौजूदा समय में जिले में नहीं है।

इसे पढ़िए-बिहारशरीफ-जहानाबाद रेललाइन पर कहां कहां बनेंगे स्टेशन.. तीन जंक्शन का भी होगा निर्माण

ग्राउंड फ्लोर पर क्या क्या
इनडोर स्टेडियम के ग्राउंड फ्लोर पर जिम की व्यवस्था रहेगी। साथ ही बॉक्सिंग हॉल होगा। छात्र और छात्राओं के लिए अलग अलग जिम कोर्ट होंगे। खिलाड़ियों के लिए रिफ्रेशमेंट रूम भी होगा। साथ ही हर तल्ला पर शौचालय से लेकर पानी तक की व्यवस्था रहेगी। इसमें हर तरह की आधुनिक मशीनें रहेंगी। इसके साथ ही 38 बाय 65 फीट का बॉक्सिंग कोर्ट होगा।

इसे पढ़िए- नवादा-बिहारशरीफ रेल लाइन पर कहां कहां बनेंगे स्टेशन.. जानिए

फर्स्ट फ्लोर कुश्ती रिंग और टेबल टेनिस कोर्ट
बिल्डिंग के फर्स्ट फ्लोर पर कुश्ती रिंग, कराटे हॉल, कैरमबोर्ड हॉल के साथ ही टेबल टेनिस कोर्ट रहेगा। 74 बाय 84 फिट लंबे चौड़े एरिया में एक साथ चार टेबल टेनिस कोर्ट काम करेगा। यानि, एक साथ चार टेबल पर यह प्रतियोगिता हो सकेगी। इसे आवश्यकता के अनुसार सजाया जा सकता है। इसी तल्ला पर पश्चिम की तरफ 35 बाय 16 फिट का कैरमबोर्ड हॉल भी रहेगा।

इसे भी पढ़िए-नालंदा से गुजरेगी आमस-दरभंगा फोरलेन.. जानिए किस किस गांव की जमीन का अधिग्रहण होगा

सेकेंड फ्लोर पर तीन बैडमिंटन कोर्ट
सेकेंड फ्लोर पर तीन बैडमिंटन कोर्ट रहेगा। यानि तीन टीम एक साथ यहां प्रतियोगिता में शामिल हो सकेगी। तीनों कोर्ट स्थाई तौर से बने होंगे। 74 बाय 84 फिट लंबे चौड़े एरिया में दो कोर्ट तो 38 बाय 66 फिट लंबे चौड़े एरिया में तीसरा बैडमिंटन कोर्ट होगा। इस स्टेडियम को राष्ट्रीय स्तर के पैमाना के अनुसार बनाया जा रहा है।

इसे भी पढ़िए-पटना में मेट्रो डिपो बनाने के लिए तोड़े जाएंगे 23 मकान.. जानिए कहां बनेगा मेट्रो डिपो

कॉलेज परिसर में बनेगा 20-20 शौचालय
नालंदा कॉलेज में हजारों बच्चे पढ़ते हैं। कई तरह की वोकेशनल कोर्स भी चलता है। एमबीए, बीएड, एमसीए जैसे कोर्स में भी सैकड़ों छात्र रोजाना पढ़ने आते हैं। उनकी सुविधा के लिए कॉलेज परिसर में ही छात्रों व छात्राओं के लिए अलग अलग 20-20 सीट का सामुदायिक शौचालय भी बनाया जाएगा।

सबसे बड़ा और मशहूर कॉलेज है
आपको बता दें नालंदा कॉलेज जिला का सबसे बड़ा कॉलेज तो है ही। साथ ही इसकी गिनती बिहार के सबसे पुराने कॉलेजों में होती है। इसकी स्थापना साल 1870 में हुई थी। यहां से पढ़े हजारों छात्र डॉक्टर, इंजीनियर,आईएएस, आईपीएस और राजनेता बने हैं। नालंदा कॉलेज में पीजी की पढ़ाई से लेकर ऑडिटोरियम, एमसीए, एमबीए और अन्य उच्च शिक्षा के साथ ही खेल कूद प्रतियोगिताओं का भी संचालन होता है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In बढ़ता बिहार

Leave a Reply

Check Also

नीतीश कुमार के दुश्मन नंबर वन को अमित शाह ने दिया Z कैटगरी की सुरक्षा.. जानिए पूरा मामला

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दुश्मन नंबर वन को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बड़ा…