बिहारशरीफ में शेखपुरा बस स्टैंड से छात्र का अपहरण, 4 निमोछिया किडनैपर गिरफ्तार, पूरी फिल्मी है कहानी

0

नालंदा पुलिस ने 24 घंटे के भीतर विक्की को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त करा लिया है। साथ ही चारों किडनैपरों को गिरफ्तार भी कर लिया है । गिरफ्तारी के बाद चारों किडनैपरों ने सनसनीखेज खुलासा किया है। किडनैपिंग की कहानी पूरी तरह से बॉलीवुड की मसाला मूवी की तरह है ।

क्या है पूरा मामला
11 जून यानि शनिवार को बिहारथाना में एक छात्र के अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया गया। शिकायतकर्ता मानपुर थाना क्षेत्र के सरबहदी गांव के रहने वाले हैं। उनका नाम मिथिलेश यादव है । मिथिलेश यादव ने बिहार थाना में अपने बेटे विक्की कुमार के अपहरण की प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

खंदक पर से अपहरण की शिकायत
विक्की के पिता ने प्राथमिकी में कहा कि 10 जून यानि शुक्रवार की शाम को उनका बेटा विक्की कपड़ा लेने घर से खन्दकपर गया था। जिसके बाद विक्की के अपरहण की उन्हें खबर मिली। उनसे अपहरणकर्ताओं के द्वारा विक्की के मोबाइल से घर के मोबाइल पर फोन कर दो लाख रुपए की फिरौती की मांग की गई

इसे भी पढ़िए-बिहारशरीफ में भारी बवाल, 50 से ज्यादा लोग घायल.. जानिए पूरा मामला

24 घंटे के भीतर पकड़े गए किडनैपर
किडनैपिंग की खबर मिलते ही नालंदा के एसपी अशोक मिश्रा एक्शन में आ गए। उन्होंने अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सदर के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया। जिसके बाद तकनीकी अनुसंधान के आधार पर संभावित स्थानों पर छापेमारी प्रारंभ की गई। 24 घंटे के अंदर ही विक्की को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ाया गया ।

कहां से पकड़े गए किडनैपर
नालंदा पुलिस ने अलौदिया चौर नदी के पास से विक्की को सकुशल बरामद कर लिया। साथ ही चार अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया ।

इसे भी पढ़िए-गर्मी की वजह से सड़क के नीचे ब्लास्ट, 6 किमी दूर तक सुनाई पड़ी आवाज

कैसे किया किडनैपिंग
अगवा युवक विक्की ने बताया कि वो कपड़े खरीदने के लिए बिहार शरीफ आया था। तभी खंदकपर में दो मोटरसाइकिल पर कुल 6 लोग सवार थे। अचानक उसे बीच सड़क पर एक लड़की के साथ छेड़खानी और रेप करने आरोप लगाने लगे। अपहरणकर्ताओँ ने जबरदस्ती उसे अपने बाइक पर बिठा लिया और सुनसान रास्ते की ओर निकल गया जब अपहृत शोर मचाना चाहा तो उसे अपहरणकर्ताओं के द्वारा गोली मार देने के धमकी दे चुप करा दिया।र नदी के चौर में ले जाकर उसके मोबाइल से घर फोन कर फिरौती मांगने लगा।

इसे भी पढ़िए-राजगीर जू सफारी के नाम पर पर्यटकों से ठगी.. कहीं आप भी न हो जाएं शिकार

अपहरणकर्ताओं ने क्या कहा
अपहरणकर्ताओं ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि छात्र को खंदकपर बस स्टैंड के पास से अपहरण किया गया था। जिसके बाद उसे अलौदिया चौर नदी के पास ले जाकर रखा गया था। युवक के साथ मारपीट की जा रही थी और फिरौती की मांग कर रहा था।

सट्टाबाजी में हार गया पैसा
दरअसल, अपहरणकर्ता आईपीएल में सट्टेबाजी लगाने का काम करता था। जिसमें करीब 50 हजार रुपये हार चुका था। पैसे की रिकवरी को लेकर अपहरणकर्ताओं के द्वारा इस घटना को अंजाम दिया गया।

कौन कौन हुआ गिरफ्तार
नालंदा पुलिस ने जिन चार अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार किया है । उसमें मानपुर थाना क्षेत्र के नगवा गांव के जगदीश यादव का 19 साल का बेटा बलम कुमार, नौबतपुर गांव के कपिल प्रसाद का (19) वर्षीय पुत्र प्रवीण कुमार उर्फ छोटू। बिहार थाना क्षेत्र के खंदकपर के रहने वाले शंकर प्रसाद का (19) वर्षीय पुत्र प्रेम कुमार और नबीनगर गांव निवासी अर्जुन प्रसाद का (18) वर्षीय पुत्र अनंत कुमार शामिल है।

छापेमारी टीम में कौन कौन
छापेमारी टीम में सदर डीएसपी डॉ शिब्ली नोमानी, बिहार थाना अध्यक्ष संतोष कुमार, दीपनगर थाना अध्यक्ष मोहम्मद मुस्ताक डीआईयू शाखा से चंदन कुमार, थाना एवं डीआईयू के पुलिसकर्मी शामिल रहे।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In रोचक खबरें

Leave a Reply

Check Also

बिहार में 19 जिलों के भू-अर्जन पदाधिकारी बदले गए.. जानिए कहां किनका तबादला

बिहार सरकार ने 19 जिलों के भू-अर्जन पदाधिकारी का तबादला कर दिया है। जिसमें नालंदा,जहानाबाद…