रेलवे स्टेशन पर प्रेमी-प्रेमिका ने खाया ज़हर, प्रेमी की मौत.. अधूरे प्रेम की पूरी कहानी जानिए

0

कहा जाता है कि प्यार अंधा होता है। प्रेम में ना तो ऊंच नीच दिखता है और ना ही रिश्ते नाते । प्रेमी हर हाल में प्रेमिका को पाना चाहता है और प्रेमिका पूरी जिंदगी अपने प्रेमी के साथ गुजारना चाहती है। लेकिन जब प्यार में प्रेमी-प्रेमिका हार जाते हैं तो अपनी जीवनलीला को समाप्त करना चाहते हैं। ऐसा ही एक मामला नालंदा जिला में सामने आया

क्या है मामला
नालंदा जिला के हरनौत रेलवे स्टेशन पर एक प्रेमी जोड़े ने ज़हर खा लिया । आने जाने वाले लोगों ने जब दोनों को बेहोशी की हालत में देखा तो पुलिस को सूचना दी । जिसके बाद हरनौत रेल पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों को अस्पताल पहुंचाया।

प्रेमी की मौत,प्रेमिका अस्पताल में
हालांकि इस दौरान प्रेमी कुंदन कुमार की मौत हो गई। जबकि प्रेमिका शबनम की हालत अब स्थिर बतायी जा रही है। धीरे-धीरे उसकी हालत में सुधार हो रहा है ।

इसे भी पढ़िए-सुप्रीम कोर्ट से JDU,RJD, NCP समेत 8 पार्टियों को बड़ा झटका.. जानिए पूरा मामला

दोनों घर से भागे थे
बताया जा रहा है कि दोनों युवक-युवती घर से भागकर दिल्ली चले गए थे । लेकिन युवती की मां ने पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी थी। जिसके बाद पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी। जिसके बाद दोनों दिल्ली से हरनौत लौट आए थे और स्टेशन पर ही दोनों ने ज़हर खा लिया ।

अधूरी प्रेम कहानी
कुंदन और शबनम की प्रेम कहानी कुछ अलग है । ये दोनों रिश्ते में भाभी और देवर हैं। शबनम की मानें तो 1 साल पहले उसकी शादी हरनौत थाना इलाके के चकजैना गांव के रहने वाले राकेश यादव से हुई थी।शबनम का कहना है कि उसके पति राकेश ने दो शादियां की हैं। वो अपनी पहली पत्नी के साथ पटना में रहता था।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में रफ्तार का कहर, बेकाबू ट्रक ने मोटरसाइकिल सवार 2 युवकों को रौंदा

कुंदन की हमदर्दी ने पास लाया
राकेश की दूसरी शादी की बात सामने आने पर शबनम ने विरोध करना शुरू किया। शबनम का आरोप है कि उसका पति उसके साथ मारपीट करने लगा। कुंदन अपनी भाभी शबनम के साथ मारपीट का विरोध करने लगा। देवर की सहानभूति मिलने के कारण दोनों का रिश्ता धीरे-धीरे प्यार में बदल गया।

कुंदन के भाई को भनक लगी
कुंदन और शबनम के प्यार की भनक उसके राकेश को लगी तो परिवार के दबाव में आकर कुंदन ने घर छोड़ दिया और हरनौत बाजार में किराए पर रहने लगा। किराए के मकान में दोनों अक्सर परिवार वालों से छुप-छुप कर मिला करते थे।

देवर के कमरे में पत्नी को देखा
राकेश ने 9 जुलाई को अपनी पत्नी को भाई को कमरे में देख लिया तो गुस्से में आकर दोनों के साथ मारपीट की, जिसके बाद देवर-भाभी साथ जीने-मरने की कसम खा कर दिल्ली चले गए। इधर, बेटी के गायब होने पर शबनम की मां ने हरनौत थाना में मामला दर्ज कराया। मामला दर्ज होने पर जब पुलिस ने जब दबिश दी तो दोनों सोमवार रात हरनौत लौट आए। इसके बाद उन्होंने साथ जीने-मरने की बात कह रेलवे प्लेटफार्म पर जहर खा लिया। सुबह जब आने-जाने वाले यात्रियों को दोनों पर नजर पड़ी तो इसकी सूचना रेल पुलिस को दी गई।

दूसरी शादी से इनकार
वहीं, राकेश कुमार ने दूसरी शादी की बात से इनकार किया है । उसने बताया कि उसके भाई और पत्नी के बीच अवैध संबंध था, जिसका वह विरोध करता था। इसी कारण दोनों 9 जुलाई को घर से भाग गए थे।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In रोचक खबरें

Leave a Reply

Check Also

नालंदा में रफ्तार का कहर.. बेकाबू ट्रक ने तीन युवकों रौंदा.. तीनों की मौत

नालंदा जिला में एक बार फिर तेज रफ्तार ने तीन युवकों की जान ले ली है । बताया जा रहा है कि ब…