5 रुपए के चक्कर में 3 लोगों ने गंवाई जान.. पुलिस ने चिता से उठाई लाश

0

कहने में तो पांच रुपए कोई बड़ी रकम नहीं होती है। पांच रुपए में बच्चों के लिए आजकल अच्छा चॉकलेट भी नहीं आ पाता है। लेकिन नालंदा जिला में 5 रुपए के चक्कर में तीन लोगों ने जान गंवा दी। हालत ये हो गई की पुलिस को आनन फानन में चिता के अधजली लाश को उठाना पड़ा ।

क्या है पूरा मामला
दरअसल, नालंदा जिला के नूरसराय थाना के अहियापुर गांव में एक महिला ने अपने दो बच्चों के साथ ज़हर खा लिया। जिसमें महिला और दोनों मासूमों की मौत हो गई । बताया जा रहा है कि पांच रुपए के झगड़े की वजह से महिला ने तीन लोगों की जीवनलीला को ही समाप्त कर दिया ।

क्या है विवाद
गांव वालों के मुताबिक पवन चौहान ने अपनी मां को आइसक्रीम खाने के लिए पांच रुपये दिये थे. सास को पांच रुपये देना पवन की पत्नी प्रियंका को नागवार गुजरा. वो गुस्से में आकर पति से झगड़ा करने लगी. पूरे दिन पति-पत्नी में झगड़ा होता रहा । इसके बाद प्रियंका ने अपने बेटे-बेटियों के साथ जहर खा लिया.

इसे भी पढिए-चार लुटेरे गिरफ्तार.. गाड़ी लूटने की कर रहे थे कोशिश

हालत बिगड़ने पर पति को पता चला
बताया जा रहा है कि जब बच्चों और महिला की हालत बिगड़ने पर लगी तो पति को इस बात की जानकारी हुई कि तीनों ने जहर खा लिया है । जिसके बाद तीनों को बिहारशरीफ स्थित एक निजी क्लिनिक में लाया गया, लेकिन रास्ते में ही बेटी की मौत हो चुकी थी.

इसे भी पढ़िए-बिहार के सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी.. नीतीश सरकार का बड़ा ऐलान

अस्पताल पर 60 हजार रुपए मांगने का आरोप
आरोप है कि जब पवन चौहान अपनी पत्नी और बच्चो को लेकर बिहारशरीफ के निजी अस्पताल में पहुंचा तो वहां मौजूद डॉक्टर ने पहले 60 हजार रुपये की जमा कराने की मांग की। पवन का आरोप है कि जब उसने कहा कि वो दिहाड़ी मजदूर है वो पैसे देने में असमर्थ है ऐसे इलाज में देरी से उसकी पत्नी और बेटे की मौत हो गई।

इसे भी पढ़िए-नालंदा-जहानाबाद के बीच बनेगा एक और हाईवे.. जानिए कहां-कहां से गुजरेगा

मृतका की पहचान हुई
मृतकों में अहियापुर गांव के पवन चौहान की पत्नी प्रियंका कुमारी (24 वर्ष), दो साल की पुत्री और आठ माह का पुत्र शामिल है. पुलिस ने इसकी खबर मृतक महिला के मायके वालों को दे दी है । वे नवादा जिला के रहने वाले हैं

चिता से लाश उठाई
सूचना मिलते ही मृतक प्रियंका का भाई पहुंचा और इलाजरत भांजे को देखने के लिए निजी क्लिनिक में गया. वहां से उसे बच्चे की लाश मिली. उसे मालूम हुआ कि पवन चौहान ने पत्नी और बेटी के शवों को श्मशान घाट में जला रहा है. युवक भी भांजे की लाश लेकर वहीं पहुंच गया और पुलिस को इसकी सूचना दी. इसके बाद नूरसराय थाना की पुलिस ने वहां पहुंच कर मां-बेटी के अधजले शवों औक बच्चे की लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल लायी. विधि -व्यवस्था डीएसपी सुशील कुमार ने बताया कि परिजनों की ओर से आवेदन मिलते ही पुलिस कार्रवाई करेगी.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In रोचक खबरें

Leave a Reply

Check Also

अजब बिहार में गजब की चोरी.. 500 मीटर लंबी रेल पटरी उखाड़कर कबाड़ी को बेच दिया.. जानिए पूरा मामला

बिहार में चोरी की घटना तो आम बात है। कभी पुल की चोरी तो कभी चारा की चोरी. अब पटरी चोरी की …