नालंदा के एक गांव में भीषण आग, दो लोग झुलसे.. चना और गेहूं स्वाहा

0

नालंदा में इन दिनों प्रचंड गर्मी पड़ रही है।जिससे अगलगी की घटनाएं भी दिनों दिन बढ़ती जा रही है। जिला प्रशासन की लाख चेतावनी के बावजूद लोग सावधानी नहीं बरत रहे हैं। जिससे लोगों को जानमाल की क्षति उठानी पड़ रही है।

कहां लगी आग
आगलगी की ये घटना नालंदा जिला के सरमेरा प्रखंड के पेंदी गांव की है। जहां खलिहान में आग लगने से हजारों रुपये के गेंहू और चना के फसल जलकर राख हो गए।आग लगने के कारणों का पता अभी नहीं चल पाया है। अगलगी की घटना के बारे में बताया जा रहा है कि ग्रामीणों ने अपने-अपने फसलों को खलिहान में एक जगह एकत्रित कर रखा हुआ था।

इसे भी पढ़िए-बिहारशरीफ-जहानाबाद रेललाइन पर कहां कहां बनेंगे स्टेशन.. तीन जंक्शन का भी होगा निर्माण

पछुआ हवा से तेज हुई आग
अचानक आग की तेज लपटें खलिहान में रखे हुए फसलों के बीच से उठने लगी। भीषण गर्मी के बीच पछुआ हवा ने आग के लपटों को और तेज कर दिया। आग की लपटों के बीच ग्रामीण अपने-अपने फसलों को बचाने के लिए खलिहान में जुट गए।

इसे भी पढ़िए-बिहार में बीएड(B.Ed) एडमिशन की तारीख की घोषणा.. जानिए कब से भरे जाएंगे फॉर्म

दो लोग गंभीर रुप से जले
आग बुझाने के दो ग्रामीण गंभीर रूप से झुलस गए। जिन्हें इलाज के लिए स्थानीय सरमेरा पीएचसी में भर्ती कराया गया है।फिलहाल ग्रामीण आग पर काबू पाने के प्रयास में जुटे हुए हैं ।वहीं अग्निशमन विभाग को अगलगी की सूचना दे दी गई।

अगलगी की घटनाओं में तेजी
इन दिनों नालंदा में खेत खलियान में अगलगी की घटना में बढ़ोतरी देखी जा रही है। आए दिन खलिहान में कभी बिजली की चिंगारी तो कभी बीड़ी सिगरेट पी कर फेंक देने से घटना हो रही हैं।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खेती किसानी

Leave a Reply

Check Also

बिहार में 19 जिलों के भू-अर्जन पदाधिकारी बदले गए.. जानिए कहां किनका तबादला

बिहार सरकार ने 19 जिलों के भू-अर्जन पदाधिकारी का तबादला कर दिया है। जिसमें नालंदा,जहानाबाद…