Home खास खबरें फिर बढ़ा भाड़ा, बिहारशरीफ से कहां का कितना हुआ किराया.. जानिए

फिर बढ़ा भाड़ा, बिहारशरीफ से कहां का कितना हुआ किराया.. जानिए

0

डीजल की बढ़ती कीमतों की मार अब आम यात्रियों पर पड़ी है। बस मालिकों ने भाड़े में एकमुश्त 20 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी कर दी है। यानि अब बिहारशरीफ से पटना का किराया 70 रुपए से बढ़कर 85 रुपया हो गया है ।

बिहारशरीफ से कहां का कितना हुआ किराया जानिए

जगह – पुराना किराया – नया किराया
पटना –  70 रु-   85 रु
बख्तियारपुर 33 रु-  40 रु
राजगीर -26 रु-  32 रु
नवादा-  36 रु-  42रु
बरबीघा– 35रु – 42 रु
शेखपुरा- 50रु-  60रु
इस्लामपुर- 42रु-  50 रु
एकंगरसराय– 35रु- 42 रु
हिलसा-42 रु- 50 रु
मुंगेर– 96 रु- 120 रु
बेगुसराय- 96रु- 120 रु
जमुई- 96 रु- 120 रु
कतरीसराय- 28रु- 36 रु
वारसलीगंज- 34रु- 42रु
बाढ़- 50रु- 60 रु
पोआरी- 30रु – 35रु

इसके अलावा  नवादा से पटना का बस किराया 100 रुपए से बढ़कर 120 रुपए हो गया है। जबकि बरबीघा से पटना का भाड़ा 110 रुपए से बढ़ाकर 132 रुपए कर दिया गया है। जबकि शेखपुरा से पटना का किराया 120 रुपए से 145 रुपए हो गया है।

मनमर्जी से भाड़ा बढ़ा रहे बस संचालक
बस स्टैंड में जैसे ही किराया बढ़ाए जाने की खबर फैली यात्रियों में नाराजगी देखी गई। राकेश कुमार, रमेश, पवन आदि यात्रियों ने कहा कि सरकार प्रति लीटर एक दो रुपये की बढ़ोत्तरी करती है लेकिन बस मालिक प्रति यात्री 15 से 20 प्रतिशत किराया बढ़ा देते हैं।

‘मजबूरी में बढ़ाया किराया’

बस मालिकों के अनुसार डीजल की कीमत में वृद्धि के साथ और भी कारण है जिसकी वजह से किराया बढ़ाना पड़ा। पहले परमिट शुल्क 2100 रुपया लगता था। जिसे बढ़ाकर 7500 कर दिया गया। पूजा परमिट 75 रुपया से बढ़ाकर 750 रुपया, रोड टैक्स पर 2 प्रतिशत बढ़ाने के साथ-साथ इंश्योरेंस भी बढ़ाया गया। डीजल 81 रुपये और पेट्रोल 91 रुपये लीटर हो गया है।

डीटीओ को जानकारी नहीं
जिला परिवहन पदाधिकारी शैलेन्द्र नाथ ने कहा कि बस संचालकों द्वारा किराया बढ़ाने की कोई जानकारी उन्हें नहीं दी गई है। मनमाने तरीके से किराया नहीं बढ़ाया जा सकता। विभाग द्वारा प्रति किलोमीटर किराया निर्धारित किया जाता है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

पावापुरी मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर सस्पेंड.. जानिए क्यों ?

पावापुरी मेडिकल कॉलेज में चार दिनों से चलता आ रहा बवाल आखिरकार थम गया. विम्स अस्पताल के आर…