Home अन्य जिले भीषण हादसा: रांची से आ रही बस का ब्रेक फेल, 11 की मौत

भीषण हादसा: रांची से आ रही बस का ब्रेक फेल, 11 की मौत

0

झारखंड के हजारीबाग में बड़ा हादसा हुआ है. दनुवा घाटी में नेशनल हाईवे-2 पर बस का ब्रेक फेल हो जाने के कारण 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि 29 घायल हैं. हादसा सुबह करीब 3:30 बजे हुआ है.

रांची से गया आ रही थी बस
महारानी ट्रेवल्स की बस रांची से गया आ रही थी. एक यात्री ने बताया कि जैसे ही बस हजारीबाग के चौपारण के दनुवा घाटी में पहुंची बस का ब्रेक फेल हो गया. ब्रेक के बारे में पहले ड्राइवर को आगाह भी किया गया था, उसने बचने की कोशिश भी की लेकिन सड़क पर खड़े ट्रक से टक्कर हो गई. हादसे में मरने वाले कई लोग बिहार के गया, जहानाबाद, डोभी, बाराचट्टी के रहने वाले हैं.

11 लोगों की मौके पर ही मौत
बस में करीब 40 लोग सवार थे जिनमें 11 लोगों की मौत घटनास्थल पर ही हो गई. बाकी 29 लोग घायल हैं जिनमें कई की हालत नाजुक है. घायलों का सबसे पहले चौपारण पीएचसी में इलाज किया गया लेकिन नाजुक हालत को देखते हुए तत्काल उन्हें वहां से हजारीबाग सदर अस्पताल रवाना कर दिया गया. यहां भी घायलों की गंभीर अवस्था को देखते हुए कई यात्रियों को रांची रिम्स के लिए रेफर कर दिया गया. मृतकों में बस के ड्राइवर और हेल्पर भी शामिल हैं

मृतकों की लिस्ट
1.मोहम्मद मुजाहिद, बस ड्राइवर
2.ज्ञानेश्वर प्रसाद (50 साल) पिता-शिवशंकर प्रसाद, झीलगंज गया
3.योगेंद्र शर्मा ( पिता-रामाशीष शर्मा) पारसबीघा, जहानाबाद
4.शिवशंकर प्रसाद ( पिता-रामबली प्रसाद) शांति नगर रातू रांची
5. बंधनी देवी ( पति-मुहरी मुंडा खरका, भरनो गुमला
6.उपेंद्र कुमार( पिता- चिरौंजी लाल) कोतवाली गया
7.आदित्य राय (10 साल) पिता-उपेंद्र कुमार, कोतवाली गया
8.इग्नुश गिद ( पिता सिलवानुश गिद) नेतरहाट लातेहार
9.भारती देवी ( पति- रामकृष्ण प्रसाद) रांची
10. रामचंद्र पासवान ( पिता- तिलेश्वर पासवान) नंदबिगहा बेलागंज गया

bus accident in chauparan Danuwa ghati Hazaribagh maharani travels

घायलों की लिस्ट
घायलों में डोली बर्णवाल (गया), प्रदीप शर्मा (सनीपुर), रामानंद पासवान (नंदु बिगहा), खुशबू कुमारी (रांची), निलेश कुमार (चंदेल यूपी), शौर्य कुमार (रांची), पप्पु कुमार (बालूमाथ), उमेश तिवारी, पिंटु कुमार (बालूमाथ), मधु कुमार आनंद (रांची), सौरभ कुमार (गया), सुनील कुमार (रांची), प्रिया देवी, बुलबुल कुमारी (गया), कौशल कुमार (गया), कपिलदेव प्रसाद (ठाकुर बिगहा), मीना शर्मा, कारू बलराम (गया), रंजू देवी (बालूमाथ), सुधीर शर्मा (रांची), संतन विश्वकर्मा (रानीगंज) शामिल हैं.

दनुवा घाटी में क्यों फेल होता है ब्रेक
दरसल, दनुवा घाटी के हथिया बाबा मोड़ की स्थिति यह है अगर गाड़ी को न्यूट्रल करके छोड़ भी दिया जाए तो यह 100 की रफ्तार पकड़ लेती है यानी काफी ढलान है वहीं तीखे मोड़ पर गाड़ियों का अनियंत्रित हो जाना कोई बड़ी बात नहीं है ऐसे में एहतियात के लिए कदम उठाना काफी जरूरी है इसके पहले एक साथ छह गाड़ियां यहां पलट चुकी है इसके अलावा एक साइंटिस्ट की भी मौत यहां हुई थी. पिछले चार महीने के आंकड़े बताते हैं कि अलग-अलग हादसों में 30 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है.

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अन्य जिले

Leave a Reply

Check Also

नियोजित शिक्षकों को मिलने वाली है सबसे बड़ी खुशखबरी.. नियोजित टीचर अब बनेंगे…

बिहार में नियोजित शिक्षकों को बहुत बड़ी खुशखबरी मिलने वाली है. समान काम के लिए समान वेतन क…