नालंदा में थाने पर लोगों ने बोला हल्ला.. पुलिसवालों की सांसें फुली

0

नालंदा में अपराध की घटनाएं दिनों दिन बढ़ती जा रही है । जिससे आम लोगों में भी पुलिस प्रशासन के खिलाफ नाराजगी भी बढ़ती जा रही है । ऐसे में एक महिला की हत्या के बाद लोगों ने थाने पर ही हल्ला बोल दिया। बड़ी संख्या में लोग थाने पहुंच गए ।

रहुई थाने का घेराव
महिला की हत्या से नाराज लोगों ने रहुई थाने का घेराव किय। बड़ी संख्या में लोग रहुई थाना जा पहुंचे। जिससे पुलिसवालों की सांसें फुल गई। क्योंकि कब भीड़ अराजक रुप ले ले इसका कोई भरोसा नहीं होता है । ऐसे में पुलिस के आला अफसर त्वरित कार्रवाई करते हुए भीड़ को समझाया।

क्या है मामला
मामला नालंदा जिला के रहुई थाना क्षेत्र की है । जहां की रहने वाली एक महिला की लाश सिलाव थाना क्षेत्र से बरामद हुई थी । महिला रहुई थाना क्षेत्र के मंदिलपुर गांव की रहने वाली थी। वो 5 दिन पहले दवा लेने के लिए बिहारशरीफ गई थी। जिसके बाद वो घर नहीं लौटी।

इसे भी पढ़िए-माउजर के साथ दो रंगदार बिहारशरीफ से गिरफ्तार,  जानिए कौन है दोनों बदमाश 

सिलाव कैसे पहुंची महिला
मृतक महिला के भाई ने बताया कि मंदिलपुर की रहने वाली लालती देवी 24 अप्रैल को अपने घर से दवा लेने के लिए बिहार शरीफ के लिए निकली थी।मृतका का अपना कोई संतान नहीं था। जिसके कारण गांव के ही कुछ लोगों की नजर उनकी संपत्ति पर थी।घर नहीं लौटने पर जब परिजनों ने गुमशुदगी का आवेदन दिया तो पुलिस पदाधिकारी ने कोई कार्रवाई नहीं की। इसी बीच सिलाव थाना इलाके के नरहरपुल के समीप महिला का शव मिला ।

इसे भी पढ़िए- थाने में मसाज करवाने वाला थानेदार सस्पेंड,, जानिए पूरा मामला

महिला के शव को दफना दिया
उधर, सिलाव में महिला की लाश मिलने के बाद उसे 72 घंटे तक पुलिस ने कब्जे में रखा । लेकिन जब महिला के शव की पहचान नहीं हो पाई तब पुलिस ने शव को दफन कर दिया।

इसे भी पढ़िए-नालंदा में बनेगा पहला राष्ट्रीय इनडोर स्टेडियम.. जानिए कहां और क्या होगी खासियत

थाने का घेराव
मृतक के परिजनों ने रहुई थाना पुलिस पर कार्रवाई में लापरवाही का आरोप लगाया है और थाने का घेराव किया । उनका कहना है कि लगातार शिकायत के बावजूद पुलिस ने कार्रवाई नहीं की । जिसके लोगों को थाने का घेराव करने को मजबूर होना पड़ा ।

आलाधिकारी मौके पर पहुंचे
रहुई थाना का घेराव करने की खबर मिलते ही आलाधिकारी मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाया। विधि व्यवस्था डीएसपी सुशील कुमार ने लोगों को आश्वासन दिया कि और एफआईआर दर्ज कर शव लाने की व्यवस्था करने का आदेश दिया। तब लोगों का गुस्सा शांत हुआ।

चार लोगों पर FIR
विधि व्यवस्था डीएसपी सुशील कुमार ने बताया कि पूरे मामले की छानबीन की जा रही है। अगर अधिकारियों की लापरवाही सामने आती है तो उनपर भी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही इस मामले में गांव के ही चार लोगों के खिलाफ अपहरण कर हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In अपराध

Leave a Reply

Check Also

दुल्हनिया संग हनीमून मनाने चले तेजस्वी यादव.. आरजेडी में मचा है घमासान

तेजस्वी यादव अपनी पत्नी राजश्री के साथ लंदन रवाना हो गए हैं। शादी के बाद ये उनकी पहली विदे…