कलंक कथा: प्रियांशु पाठक ने अपनी सगी भतीजी को रेड लाइट एरिया चुतुर्भुज स्थान में बेच दिया

0

कोई व्यक्ति पैसे के लिए कितना गिर सकता है । इसका अंदाजा आप कलयुगी चाचा प्रियांशु पाठक से लगा सकते हैं। जिसने महज 50 हजार रुपए के लिए अपनी भतीजी को रेड लाइट एरिया में जाकर बेच दिया। खास बात ये है कि वो कन्या भोज के नाम पर भतीजी को ले गया था और मानव तस्करों के हाथों बेच दिया।

क्या है पूरा मामला
दरअसल, प्रियांशु पाठक नाम एक शख्स ने अपनी 10 साल की भतीजी को महज 50 हजार रुपए के लिए रेड लाइट एरिया में बेच दिया। प्रियांशु पाठक अपने सगे भाई की बेटी को कन्या भोज के नाम पर बुलाया और फिर मुजफ्फरपुर के चतुर्भुज स्थान रेड लाइट एरिया में एक देह व्यापारी के हाथों बेच दिया।

कौन है प्रियांशु पाठक
प्रियांशु पाठक बेगूसराय जिले के भगवानपुर प्रखंड के तेयाय ओपी क्षेत्र के पाठक टोल डोरैया का रहने वाला है। उसके पिता का नाम बेंकटेश पाठक है । रविवार को वो अपने सगे भाई की बेटी को कन्या भोज के नाम पर बुलाया और वहां से मुजफ्फरपुर ले जाकर देह व्यापारी के हाथों बेच दिया।

इसे भी पढ़िए-बिहार के 19 जिलों में बारिश का ब्लू अलर्ट जारी.. जानिए कहां-कहां होगी झमाझम बारिश

कैसे हुआ खुलासा
सोमवार को बेटी जब घर नहीं आई तो बच्ची के पिता ने जानकारी हासिल करनी चाही। फिर किसी तीसरे व्यक्ति से पता चला कि उसने तो बेटी का सौदा कर लिया है। बदहवास पिता रोते तड़पते थाना जा पहुंचा और आपबीती सुनाई।

इसे भी पढ़िए-;नीतीश के हनुमान पर बिफरे RCP सिंह, खुद को बताया राम.. जानिए इसके मायने

तुरंत एक्शन में आई पुलिस
पीड़ित पिता की शिकायत पर बेगूसराय पुलिस तुरंत एक्शन में आ गई। तेघड़ा डीएसपी ओमप्रकाश के नेतृत्व में पहले आरोपी चाचा प्रियांशु पाठक को गिरफ्तार किया गया। फिर मुजफ्फरपुर में प्रियांशु के बताए स्थान पर छापेमारी की गई। लेकिन वहां भी बच्ची नहीं मिली। इसके बाद पुलिस ने सख्ती बरतते हुए पूछताछ की। तब वह बताया कि चतुर्भुज स्थान रेड लाइट एरिया में उसे बेचा था।

इसे भी पढ़िए-क्या गाड़ी में लगे फास्टैग से चोरी हो जाएंगे पैसे, क्या स्मार्टवॉच के जरिए चुराए जा सकते हैं पैसे ? जानिए पूरा सच

पुलिस ने बच्ची को बरामद किया
फिर बेगूसराय पुलिस प्रियांशु के बताए एड्रेस पर मुजफ्फरपुर के रेड लाइट एरिया चतुर्भुज स्थान गई। जहां देह व्यापारी यास्मीन के घर से बच्ची को सकुशल बरामद किया। पुलिस ने आरोपी चाचा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। साथ ही मासूम को पिता के पास सकुल पहुंचा दिया ।

इसे भी पढ़िए-नालंदा,नवादा और शेखपुरा के छात्रों के लिए बड़ी खुशखबरी.. सरदार पटेल कॉलेज में अब होगी…

असली सवाल, किस पर करें विश्वास
लेकिन असली सवाल यही है कि किस पर करें विश्वास। जब सगा चाचा ही दरिंदा निकल जाए। कुकर्मी हो जाए और शरीर का सौदागर बन जाए तो ऐसे रिश्तों का क्या फायदा? ऐसे चाचा को ऐसी कड़ी सजा मिलनी चाहिए कि ऐसे व्यभचारियों के लिए नजीर बन जाए।

Load More Related Articles
Load More By Nalanda Live
Load More In खास खबरें

Leave a Reply

Check Also

बिहारशरीफ के हिरण्य पर्वत पर युवक का मर्डर.. जानिए पूरा मामला

बिहारशरीफ के हिरण्य पर्वत पर एक युवक की बदमाशों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी। मृतक के परिजनों …